मेरठ,जेएनएन। शरीर में प्रोटीन की कमी का असर सीधे रोग प्रतिरोधक क्षमता पर पड़ता है, शरीर बार बार बीमार रहने लगता है। बाल और नाखून भी टूटने लगते हैं। चेहरे की चमक गायब होने लगती हैं। साथ ही हड्डियों को मजबूत करते के लिए भी प्रोटीन जरूरी है। जिसे पनीर, दूध, चना, मूंग, मसूर, उड़द, राजमा, लोभिया, अंडा, सोयाबीन, चिकन और मटन खाने से प्रोटीन की कमी को दूर किया जा सकता है। इसके लिए रोजाना भोजन में दो कटोरी दाल को शामिल करने की सलाह दी जाती है। इसके साथ ही राजमा, लोभिया, चना और मूंग दाल को भोजन में शामिल करने के साथ ही सलाद और चाट के रूप में भी खाया जा सकता है। इससे शरीर में प्रोटीन की कमी को दूर किया जा सकता है। जहां तक अंडा, मटन और चिकन की बात है तो सर्दी के मौसम में रोजाना दो उबले हुए अंडे या एक कटोरी मटन और चिकन खाना भी फायदेमंद है। इसमें कई पोषक तत्व होते है, जो प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करते हैं। खानपान में इन्हें भी करें शामिल

- नियमित सौ ग्राम पनीर नाश्ते में जरूर खाए।

- पनीर खाने से शरीर को एनर्जी मिलती है।

- सोयाबीन की एक कटोरी सब्जी या फिर इसे उबालकर एक कटोरी चाट के रूप में खाया जा सकता है।

- बच्चों को नाश्ते में दो उबले हुए अंडे खिलाने से सर्दी और मौसमी बीमारियों से बचाव किया जा सकता है।

- सप्ताह में दो दिन एक कटोरी मटन और चिकन खाने से प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत होगा और मौसमी बीमारियों और सर्दी से भी बचाव होगा। बोले चिकित्सक-

एक व्यक्ति के लिए सौ ग्राम मटन और चिकन खाना पर्याप्त है। इसमें लगभग 31 ग्राम प्रोटीन की मात्रा होती है। वहीं मटन खाने से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। वहीं शाकाहारी लोग पनीर, दूध, दाल, चना, राजमा और लोभिया खाकर प्रोटीन की कमी को दूर कर सकते हैं। जहां तक संभव हो सुबह नाश्ते में एक कटोरी कच्चा पनीर खाए इसमें प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती हैं।

-डा. भावना गांधी खानपान विशेषज्ञ

Edited By: Jagran