मेरठ। शहर की इकलौती जासूसी महिला उपन्यासकार ने किताब प्रकाशक पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। प्रकाशक उस पर शारीरिक संबंध बनाने का दबाव डाल रहा है। पीड़िता ने एसएसपी कार्यालय में शिकायत देकर कार्रवाई की माग की है। एसएसपी राजेश कुमार पाडेय ने मामले की जाच के आदेश दिए हैं।

नौचंदी थाना क्षेत्र में रहने वाली एक युवती का कहना है कि वह एक जासूसी उपन्यासकार है। अपने उपन्यास के प्रकाशन के लिए ब्रहमपुरी के हरिनगर निवासी प्रकाशक से संपर्क किया। 22 हजार रुपये देकर उपन्यास छापने की बात तय हो गई। उपन्यासकार का कहना है कि उसने अपने उपन्यास में आगामी उपन्यास का विज्ञापन भी दिया, जिसके एवज में 30 हजार रुपए का भुगतान किया। इसके बावजूद प्रकाशक ने समय पर किताब प्रकाशित नहीं की। गत 21 जून को वह शिकायत करने प्रकाशक के पास गई तो उसने उस पर शारीरिक संबंध बनाने का दबाव डाला। उसने कहा कि अगर वह उसकी बात मान ले तो उसे खूब तरक्की दिलाएगा। विरोध करने पर प्रकाशक ने उसके साथ छेड़छाड़ और अश्लीलता की। उपन्यासकार का कहना है कि वह जैसे-तैसे वहा से भागकर आ गई। ब्रहमपुरी थाने में शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई तो उसने सोशल मीडिया पर प्रकाशक की करतूत जगजाहिर की। इस पर प्रकाशक और उसके साथियों ने उसके चरित्र पर लाछन लगाने शुरू कर दिए। पीड़िता का कहना है कि मामला बढ़ता देख 31 जुलाई को प्रकाशक ने उपन्यास की 300 किताबें छापकर उसके पास भिजवा दीं। उपन्यास पढ़ा तो उसमें उसकी मर्जी के बगैर काट-छाट की हुई थी। पाडुलिपि मागने पर प्रकाशक ने खो जाने की बात कह दी। उपन्यासकार ने आरोपित प्रकाशक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने की गुहार लगाई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप