मेरठ, जागरण संवाददाता। Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में तमाम ऐसे किसानों की जानकारी सामने आ रही है। जिसमें सत्यापन के दौरान उनके दस्तावेज गलत पाए गए हैं। आधे-अधूरे कागजात के साथ सम्मान निधि की पहली किश्त का लाभ लेने वाले किसानों की संख्या भी सामने निकलकर आई है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत मेरठ जिले में 2019 से लेकर अभी तक 2.79 लाख किसानों का डाटा फीड किया गया है।

कृषि विभाग के उप निदेशक ब्रजेश चंद्रा के अनुसार, इसमें 2.10 किसानों के आवेदन स्वीकृत हो गए हैं, जिसमें 44645 ऐसे किसान हैं। जिसमें किसी का आधार कार्ड, पासबुक या खसरा खतौनी आदि मिलान सत्यापन के रूप में नहीं हो पा रहा है। इन सभी खातों को कार्रवाई करते हुए कृषि विभाग की ओर से डिलीट कर दिया गया है। इन्हें कोई किश्त नहीं दी गई।

इसके अलावा मेरठ जिले में 20 हजार ऐसे खातों का सत्यापन चल रहा है। जिन्हें सम्मान निधि की पहली किश्त प्राप्त हो चुकी है। इसके अतिरिक्त इसी डाटा में 6 हजार किसानों का डाटा ऐसा मिला है, जिसका सत्यापन नहीं हो सका है। इन छह हजार किसानों के डाटा को भी पोर्टल से हटाया जाएगा। कृषि विभाग को 10 जुलाई तक सम्मान निधि के सत्यापन का कार्य पूरा करना है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt