मेरठ,जेएनएन। जेल में बंद कुख्यातों की कमर तोड़ने के लिए उनके शूटरों पर कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। सभी बदमाशों के शूटरों को चिह्नित कर उनकी गतिविधियों की जानकारी जुटाई जा रही है। हाल में सलमान और शारिक के शूटरों पर पुलिस की नजर गड़ी हुई है। दोनों बदमाशों के शूटर एक दूसरे पर हमला कर रहे हैं।

चित्रकूट जेल में तीन बदमाशों के मारे जाने के बाद मेरठ जेल में बंद बदमाशों की भी निगरानी रखी जा रही है। माना जा रहा है कि जेल से बाहर आए बदमाशों के शूटर ही उनके मददगार बने हुए हैं। ऐसे में पुलिस योगेश भदौड़ा, उधम सिंह, सलमान, शारिक समेत अन्य बदमाशों के शूटरों को चिह्नित कर रही है। देखा जा रहा है कि कौन-कौन शूटर जेल में बंद बदमाशों के संपर्क में है। पुलिस ने जेल से छूटे सुशील मूंछ और भूपेंद्र बाफर के शूटरों की भी पड़ताल शुरू कर दी है। सभी बदमाशों की कमर तोड़ने के लिए उनके शूटरों पर कार्रवाई की जाएगी। सलमान और शारिक के शूटर तो पूरी तरह से सक्रिय हैं। हाल में भी इन्होंने जाकिर कालोनी में पुलिस के सामने ही फायरिंग की थी। नौचंदी थाने में मुकदमा भी दर्ज किया जा चुका है। एसएसपी अजय साहनी का कहना है कि जेल में बंद बदमाशों से जुड़े उनके शूटरों पर कार्रवाई की जाएगी।

हरियाणा में किसानों पर लाठीचार्ज की निदा : हरियाणा के हिसार में किसानों पर हुए लाठीचार्ज की कांग्रेसियों ने निदा की है।

किसान कांग्रेस के मेरठ मंडल अध्यक्ष अमित शर्मा ने सोमवार को रोहटा स्थित अपने आवास पर बैठक में कहा कि हरियाणा के हिसार में किसानों पर बर्बरता से लाठीचार्ज किया गया। वहां की भाजपा सरकार ने जुल्म के सभी रिकार्ड तोड़ दिए हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा के किसानों के इस आंदोलन के समर्थन में उप्र के किसान व समस्त कांग्रेसी खड़े हैं। इस दौरान आशीष शर्मा, ओमकार शर्मा, शिवम, मिटू कौशिक, ज्ञानी शर्मा, चौधरी जवाहर सिंह, पप्पू शर्मा, मैराज अब्बासी, हाजी रियाजुद्दीन, ईमामुद्दीन और यामीन आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran