मेरठ, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर से धारा-370 और 35-ए हटाए जाने के बाद प्रदेश सरकार के मंत्री जनमानस को भरोसे में ले रहे हैं। इसी कड़ी में कौशल विकास मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने एक देश-एक संविधान राष्ट्रीय एकता अभियान के अंतर्गत शुक्रवार को मेरठ में आइआइए भवन पहुंचकर उद्यमियों से संवाद किया।

कपिल देव ने कहा कि मोदी-शाह ने साहस के साथ इतिहास बदल दिया, और दुनिया में अभूतपूर्व समर्थन भी जुटाया। उद्यमियों को भरोसा दिया कि जल्द ही जम्मू-कश्मीर के लोग हमारे साथ घुल मिलकर विकास की रेस में आगे निकलेंगे। कश्मीर विलो की उपलब्धता भी बढ़ेगी। आइआइए भवन में अतुल भूषण गुप्ता, अजय रस्तोगी, अनुराग अग्रवाल, एनके मल्होत्रा समेत कई उद्यमी रहे। इसके बाद मंत्री ने मीनाक्षीपुरम में कर्नल अमरदीप त्यागी, ब्रह्मदेव सिंह, राहुल शर्मा समेत कई से संपर्क किया। साकेत में कवि सौरभ सुमन, अनामिका अंबर को साहित्य दिया। पूर्व अंतरराष्ट्रीय कुश्ती खिलाड़ी अलका तोमर से विवि स्थित कुश्ती हॉल में संपर्क किया। कश्मीर में खुशहाली का दावा करते हुए पीओके को भी जल्द भारत में मिलाने की बात कही। फूलबाग कॉलोनी में मनोज वर्मा के आवास पर इतिहासकारों व साहित्यकारों से भेंट की। इतिहासकार डॉ किरण सिंह उपाध्याय ने कश्मीर के गौरवशाली इतिहास की जानकारी दी। प्रोफेसर बी एल शर्मा, सुरेंद्र पाल त्यागी समेत कई अन्य शामिल हुए। संयोजक करुणेशनंदन गर्ग रहे। महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल, सतीश गर्ग,अनुराग बिश्नोई एवं मनीष उपाध्याय संजीव शर्मा आदि का विशेष योगदान रहा। 11 विभूतियों को 'वैश्य रत्न' अवार्ड

मेरठ : वैश्य महासंघ की ओर से दिल्ली रोड स्थित जगदीश मंडप में शुक्रवार शाम महाराजा अग्रसेन जयंती व सम्मान समारोह धूमधाम से आयोजित किया गया। समारोह में वैश्य समाज की दस विभूतियों को 'वैश्य रत्न' से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व्यवसायिक शिक्षा व कौशल विकास विभाग राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कपिल देव अग्रवाल के अलावा सांसद राजेंद्र अग्रवाल को पगड़ी, माला व सांकेतिक तलवार भेंटकर जोरदार स्वागत किया गया। कार्यक्रम के अध्यक्ष योगेश मोहन गुप्ता ने सभी अतिथियों को मोतियों की माला पहनाकर स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन महामंत्री कृष्ण गुप्ता ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में पवन कुमार, बीके गुप्ता, अनिल कुमार, पूनम गुप्ता, शिल्पी गोयल व रूचि सिंघल आदि की अहम भूमिका रही। इस अवसर पर वैश्य महासंघ ने आर्थिक कमजोर 11 परिवारों को छत का पंखा सहायता के तौर पर भेंट किया। साथ ही एक महिला के मकान की छत निर्माण की जिम्मेदारी ली गई।

ये हुए 'वैश्य रत्न' से सम्मानित

डा. संजय गुप्ता, गिरीश मोहन गुप्ता, राजेश अग्रवाल, राजीव सिंघल, अरविंद मित्तल, प्रकाश गुप्ता, अशोक गुप्ता, मनीष शारदा, मयंक रस्तोगी व आकाश जैन

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप