बिजनौर, जेएनएन। बिजनौर जिले के नगीना में गोहत्‍या की झूठी सूचना देने पर थाना प्रभारी को बिना बताए दबिश देने गई दरोगा के नेतृत्व में पुलिस टीम द्वारा तोड़फोड़ करने व बड़े भाई के साथ मारपीट करने के खौफ से 54 वर्षीय छोटे भाई की मौत हो गई। मौत के बाद पुलिस उल्टे पांव लौट गई। इससे परिजनों में चीख-पुकार मच गई। घटना के बाद आनन-फानन में पुलिस अधीक्षक ने चर्चित दरोगा व एक सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया। मृतक के परिजनों ने पोस्टमार्टम न कराने पर लिखित तहरीर देकर मामले का निपटारा कर दिया। घटना के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल है।

गोकशी की सूचना पर पहुंची थी पुलिस

गुरुवार की देर रात्रि 11:00 बजे नगर के मोहल्ला लुहारी सराय में दरोगा रोहित शर्मा अपने साथ आधा दर्जन से अधिक सिपाहियों के साथ गोकशी की झूठी सूचना पर अनवर अहमद व उसके भाई अंजार के घर दबिश देने के लिए गए थे। दबिश के दौरान चर्चित दरोगा रोहित शर्मा व सिपाहियों ने उसके घर के बाहर रखा सामान कुर्सी आदि को भी तोड़ फोड़ दिया और उनके दरवाजे को लगातार पीटते रहे व तोड़ने की कोशिश करते रहे लेकिन दरवाजा नहीं टूटा।  मृतक के बड़े भाई अबरार अहमद ने बताया कि जैसे ही वह अपने कमरे नीचे आया तो दरोगा ने उस पर लाठियां बरसाना शुरू कर दिया जिसमें वह घायल हो गया। जिसके बाद उसका छोटा भाई मृतक अनवार अहमद पुलिस की दबिश से भयभीत हो गया और उसकी तबीयत खराब हो गई। इसके बाद अचानक हार्ट अटैक होने से उनकी मौत हो गई।

परिजन बोले नहीं चाहिए कोई कार्रवाई

अचानक मौत होने से दरोगा व पुलिसकर्मी घबरा गया और उल्टे पैर वापस चले गये। मौत के बाद परिजनों में कोहराम मच गया आनन-फानन में पुलिस अधीक्षक ने दबिश देने गए दरोगा रोहित शर्मा व एक सिपाही अमित कुमार को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया। घटना की सूचना थाना प्रभारी व पुलिस क्षेत्राधिकारी को मिलते ही विभाग में हड़कंप मच गया और थाना प्रभारी तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी मोहल्ले के कुछ गणमान्य लोगों व अन्य लोगों के साथ मृतक के घर पहुंचे और मृतक के पुत्र से तहरीर मिली जिसमें उसने अपने पिता की मौत हार्ट अटैक होने से बताइए और वह न तो पोस्टमार्टम चाहते हैं और न ही किसी तरह की कार्रवाई।

एसपी ने लिया एक्‍शन, दरोगा सिपाही लाइन हाजिर

पुलिस अधीक्षक बिजनौर ने दरोगा रोहित शर्मा व सिपाही अमित कुमार को दोषी मानते हुए तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया और रात में ही थाना प्रभारी ने उनकी रवानगी कर दी। थाना प्रभारी निरीक्षक कृष्ण मुरारी दोहरे ने बताया कि दरोगा रोहित शर्मा उन्हें बिना बताए किसी गोहत्‍या की सूचना पर दबिश देने मोहल्ला लोहारी सराय गए थे लेकिन वहां किसी ने भी घर का दरवाजा नहीं खोला और एक व्यक्ति की हार्ट अटैक से मौत हो गई है। परिजन पोस्टमार्टम कराने को तैयार नहीं थे उन्होंने लिखित तहरीर दे दी है कि उनके पिता की मौत हार्ट अटैक से हुई। पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रभात कुमार ने बताया कि गोहत्‍या की सूचना पर दरोगा पुलिस टीम के साथ मृतक के घर दबिश देने गए थे। मृतक पहले से ही हार्ट पेशेंट था। जैसे ही पुलिस ने घर का दरवाजा पीटा तो डर की वजह से अनवर अहमद की मौत हो गई।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप