मेरठ, जेएनएन। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा की छह मार्च को होने वाली किसान महापंचायत अब सात मार्च को होगी। पार्टी हाईकमान का निर्देश मिलते ही कांग्रेसियों ने तैयारी शुरू कर दी है। कांग्रेस प्रवक्ता हरिकिशन आंबेडकर ने बताया कि प्रियंका वाड्रा को छह मार्च को आना था, लेकिन पाच राज्यों के विधानसभा चुनावों में उनकी व्यस्ता के कारण अब महापंचायत की तिथि एक दिन आगे बढ़ गई है। किसान महापंचायत सरधना के कैली गांव ही है। इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है। सात मार्च दोपहर 12 बजे कैली गांव में हनुमान मंदिर के पास किसान महापंचायत होगी। प्रियंका यहां कृषि कानून के खिलाफ किसानों किसानों को संबोधित करेंगी। कांग्रेसी नेताओं ने महापंचायत की तैयारियां शुरू कर दी हैं। कांग्रेस प्रदेश महासचिव बदरुद्दीन कुरेशी और जिलाध्यक्ष अवनीश काजला ने महापंचायत में भीड़ जुटाने के लिए सोमवार को जनसंपर्क शुरू कर दिया है। जिलाध्यक्ष काग्रेस के पदाधिकारियों के साथ कैली गांव पहुंचे और महापंचायत स्थल को समतल कराने का काम शुरू कराया। उनके साथ महेंद्र शर्मा, नवनीत नागर,राकेश सिंह, शेर मोहम्मद मौजूद रहे। कार्यकारिणी का शपथ ग्रहण व उपाध्यक्ष चुनाव पांच को: नगर निगम कार्यकारिणी के निर्वाचित 12 सदस्यों का शपथ ग्रहण व उपाध्यक्ष पद का चुनाव पांच मार्च को होगा। प्रभारी समिति कक्ष के अनुसार नगर निगम के टाउन हाल परिसर के तिलकहाल में सुबह 11 बजे शपथ दिलाई जाएगी। मालूम हो कि नगर निगम कार्यकारिणी के छह सदस्यों का निर्वाचन सात फरवरी को हुआ था। इसके बाद नई कार्यकारिणी गठित हो गई है, लेकिन शपथ ग्रहण और उपाध्यक्ष पद के निर्वाचन न होने से कार्यकारिणी व बोर्ड बैठक का आयोजन नहीं हो पा रहा है। इसे लेकर भाजपा पार्षदों व कार्यकारिणी सदस्यों की ओर से शपथ ग्रहण की लगातार मांग की जा रही थी। महापौर सुनीता वर्मा का कहना है कि पांच मार्च को पहले शपथ ग्रहण होगा। इसके बाद उपाध्यक्ष पद के निर्वाचन के लिए एजेंडा रखा जाएगा। बजट बैठक को देखते हुए यह कार्य अतिशीघ्र कराया जाना आवश्यक है। ताकि वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट पास किया जा सके।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप