मेरठ, जेएनएन। स्कूलों में मिशन एडमिशन को लेकर बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के लिए अभिभावकों की परीक्षा शुरू हो गई है। शहर में पोस्ट आफिस व बैंक शाखाओं में आधार कार्ड सीएससी केंद्रों पर आधार कार्ड बनवाने के लिए अभिभावकों की भीड़ उमड़ रही है। स्कूलों में जन्म प्रमाण-पत्र के साथ बच्चों के आधार कार्ड भी जमा किए जा रहे हैं।

नए सत्र में एडमिशन के लिए बच्चों के आधार कार्ड में नये आवेदन व संशोधन को लेकर अभिभावक बच्चों को लेकर आधार केंद्रों पर पहुंच रहे हैं। मुख्य रुप से कैंट स्थित मुख्य डाकघर व शहर घंटाघर स्थित डाकघर में ही प्रतिदिन 100 से अधिक आधार कार्ड बनाए जाते हैं। बाकी में पांच से 40 के बीच ही आवेदन स्वीकार किए जा रहे हैं।

परिवार संग पहुंचे अरशद व नदीम

सदर बाजार निवासी व्यापारी अरशद को बेटे अखलद का आधार कार्ड बनवाना है। इसके लिए वह कैंट स्थित डाकघर के कई चक्कर लगा चुके हैं। बुधवार को वह पत्‍‌नी व बेटे को लेकर पहुंचे। वहीं, हाशिमपुरा निवासी नदीम अख्तर अपने बेटे आशिर व पत्‍‌नी को लेकर आधार कार्ड बनवाने के लिए अपनी बारी का इंतजार करते दिखाई पडे़।

पांच वर्ष से कम बच्चे के लिए जन्म प्रमाण पत्र या माता-पिता का आधार जरूरी

कैंट स्थित पोस्ट आफिस में आधार कार्ड केंद्र प्रभारी मौ. हारुण अंसारी ने बताया कि पांच वर्ष से अधिक आयु के बच्चों का आधार कार्ड बनाने के लिए क्षेत्रीय पार्षद का लैटर होना जरुरी है। इससे नीचे आयु के बच्चों के लिए जन्म प्रमाण पत्र के साथ पिता या माता का आधार कार्ड साथ लाना आवश्यक है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस