मुजफ्फरनगर, जागरण संवाददाता। मुजफ्फरनगर के पुरकाजी में पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए पूर्व सभासद को छुड़ाने के लिए भारतीय किसान यूनियन तोमर कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को देर रात तक थाना परिसर में धरना दिया। पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार आरोपित पुलिस के नाम से वाहनों से पैसा इकट्ठा कर रहा था। तोमर वालों का कहना है कि पुलिस ने बिना किसी शिकायत के गिरफ्तारी की है। वहीं देररात निष्पक्ष जांच के बाद ही आरोपित को जेल भेजने के पुलिस आश्वासन पर भाकियू तोमर ने धरना किया समाप्त।

पुलिस ने गुरूवार शाम कस्बा निवासी पूर्व सभासद नफीस को हिरासत में ले लिया। पता चलने पर भारतीय किसान यूनियन तोमर के कार्यकर्ता थाने पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने पुलिस से गिरफ्त में लिए व्यक्ति को छोड़ने को कहा। पुलिस ने छोड़ने से साफ इंकार कर दिया। नाराज कार्यकर्ता थाना परिसर में ही धरना देकर बैठ गए। धरने पर जोरदार नारेबाजी की गई। वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष जावेद बाबर ने कहा कि पकड़ा गया नफीस संगठन का कार्यकर्ता है। इसे पुलिस ने गलत तरीके से बिना किसी शिकायत के पकड़ा है।

वक्ताओं का कहना था कि पुलिस जबरन कार्यकर्ताओं को परेशान कर रही है। प्रभारी निरीक्षक एचएन सिंह ने बताया पकड़ा गया आरेपित पुलिस के नाम से डग्गामार वाहनों से उगाही कर रहा था। मामले की शिकायत बड़े अफसरों से की गई है। मामले में कार्रवाई की जा रही है। इस दौरान अजय त्यागी, असलम, शहजाद, आशीष शर्मा, शमशाद, सोनू खान, निखिल चौधरी, बलविंद्र सिंह चट्ठा, मनीष मास्टर, आसिफ फरीदी आदि मौजूद रहे।