मेरठ, जेएनएन। गंगानगर क्षेत्र की अव्यवस्थाओं को दूर करने के लिए गुरुवार को नगर आयुक्त मनीष बंसल ने पूरे अमले के साथ स्थलीय निरीक्षण किया। उन्हें जगह-जगह कचरे के ढेर और नाले-नालियां चोक मिले। उखड़ी सड़कें और ग्रीन बेल्ट से हरियाली गायब मिली। यह देख नगर आयुक्त भड़क उठे। उन्होंने अधीनस्थ अधिकारियों को मौके पर ही दिशा-निर्देश दिए। कहा कि रोज सुबह नौ बजे तक नालियों की सिल्ट और कूड़ा हर मोहल्ले में उठ जाना चाहिए।

सुबह सात बजे नगर आयुक्त मनीष बंसल, अपर नगर आयुक्त श्रद्धा शांडिल्यायन, मुख्य अभियंता यशवंत कुमार, सहायक नगर आयुक्त बृजपाल सिंह व इंद्र विजय समेत अन्य अधिकारी गंगानगर स्थित कम्युनिटी सेंटर पहुंचे। नगर आयुक्त कम्युनिटी सेंटर से करीब 500 मीटर पहले ही गाड़ी से नीचे उतर गए। सभी अधिकारियों के साथ गंगानगर डिवाइडर रोड पर सफाई व्यवस्था का निरीक्षण शुरू किया। गंदगी के ढेर देख नगर आयुक्त ने सफाई निरीक्षक और सफाई नायक को कड़ी चेतावनी दी। कहा कि सफाई में सुधार और सफाई कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए। हर हाल में सुबह नौ बजे तक नालियों की सिल्ट और कूड़ा हर मोहल्ले में उठ जाना चाहिए। डेंगू-मलेरिया की रोकथाम को एंटी लार्वा छिड़काव की स्थिति भी देखी। गंगानगर क्षेत्र में उखड़ी सड़कों की मरम्मत कराने का मुख्य अभियंता को निर्देश दिया। चर्चा रही कि बहुत जल्द एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आने की संभावना है। जिसे देखते हुए नगर निगम प्रशासन व्यवस्था सुधारने में जुटा है।

सड़क पर सीवर की गंदगी, व्यापारियों ने किया प्रदर्शन : अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के शहर अध्यक्ष लोकेश चंद्रा ने व्यापारियों के साथ नगर निगम के खिलाफ सीवर लाइन को लेकर आक्रोश जताया। व्यापारियों ने नगर निगम के खिलाफ प्रदर्शन कर साफ सफाई की मांग की। व्यापारियों ने शिवाजी रोड पर प्रदर्शन के दौरान कहा कि सीवर लाइन की सफाई न होने से भीषण दुर्गंध में रहना पड़ रहा है। गंदगी की वजह से दुकान तक ग्राहकों ने भी आना छोड़ दिया है। सफाई व्यवस्था पूरी तरह चौपट है। कहा कि इस रास्ते से दिनभर अफसर गुजरते हैं, लेकिन उन्हें समस्या दिखायी नहीं देती है। आक्रोश जताने वालों में सनी लोधी सुभाष चंद्र ,उमाशंकर, देवेंद्र, शुभम व रवि आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran