मेरठ, जेएनएन। यातायात माह के दौरान ट्रैफिक पुलिस ने नवंबर में 25 हजार वाहन चालकों का चालान किया। 49 लाख 54 हजार का जुर्माना वसूला। साथ ही 138 वाहन सीज किए और 25 अवैध ई-रिक्शा और जुगाड़ पकड़े। वहीं, पूरे माह के दौरान लोगों को जागरूक भी किया गया। आंकड़ों की बात करें तो शराब पीकर वाहन चलाने से ज्यादा चालान मोबाइल पर बात करते हुए वाहन चलाने वालों के हुए हैं।

खूब पढ़ाया नियमों का पाठ, लेकिन....

एसपी ट्रैफिक संजीव वाजपेयी ने बताया कि नवंबर में यातायात माह के दौरान स्कूल-कॉलेजों में 50 से ज्यादा कार्यशाला की गईं। छात्रों ने जागरुकता रैली निकाली। स्वास्थ्य कैंप लगाए गए। कैंडल मार्च, रोडवेज बस चालकों के लिए कार्यशाला, प्रतियोगिताएं, गांधी गिरि से लोगों से नियमों की जानकारी देने के साथ ही हाईवे किनारों पर बसें 19 गांवों में पंचायत की गई। इस दौरान लोगों को नियमों का पाठ पढ़ाया गया। उन्होंने बताया कि स्कूल-कॉलेजों में करीब 26 हजार छात्रों को प्रशिक्षित किया गया है, जो लोगों को यातायात नियमों के बारे में आगे भी जानकारी देते रहेंगे।

अस्थाई कट होंगे बंद

एसपी ट्रैफिक ने बताया कि शहर के पांच अस्थाई कट चिह्न्ति कर लिए गए हैं, जिनको बंद किया जाएगा। अधिक दुर्घटना वाले स्थानों पर चेतावनी बोर्ड लगाए जाएंगे। परतापुर से बेगमपुल तक के टूटे डिवाइडर दुरुस्त होंगे।

शराब से ज्यादा मोबाइल का नशा

यातायात माह के आंकड़ों की बात करें तो शराब पीकर वाहन चलाने से ज्यादा चालान मोबाइल पर बात करते हुए वाहन चलाने वालों के हुए हैं। तीस दिन में शराब पीकर वाहन चलाने के 17 चालान हुए। तेज रफ्तार में वाहन चलाने वालों के 26 चालान हुए, जबकि 317 लोग वाहन चलाते समय मोबाइल पर बात कर रहे थे। इससे साफ है कि लोगों पर मोबाइल का नशा ज्यादा है।

यह कटे चालान

बिना हेलमेट 14177

बिना सीट बेल्ट 2073

तेज गति 26

शराब पीकर चलना 17

मोबाइल इस्तेमाल 317

दो पहिया वाहन पर तीन सवारी 896

गाड़ी पर काली फिल्म 35

बिना लाइसेंस वाहन चलाना 3965

हूटर, सायन, प्रेशर हार्न 93

बिना बीमा वाहन चलाना 488

गलत दिशा में चलना 59

दोषपूर्ण नंबर प्लेट 790

नो एंट्री 79

क्षमता से अधिक सवारी 14 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस