मेरठ,जेएनएन। विभिन्न मुकदमों में वाछित और वारंटी अपराधियों की धरपकड़ को पुलिस ने अभियान चलाया है। माना जा रहा है कि ये अपराधी चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं। इनकी संख्या 300 से ज्यादा है। पिछले पाच दिनों में पुलिस ऐसे 42 अपराधियों को पकड़कर जेल भेज चुकी है।

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पुलिस ने वाछित और वारंटी अपराधियों की सूची तैयार कर ली है। गोपनीय सूचना में सामने आया कि अपराधी चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं। एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने कहा कि जिन मुकदमों में आरोप पत्र कोर्ट में दाखिल हो चुके हैं और आरोपित बाहर घूम रहे है। ऐसे अपराधियों को मतदान से पहले जेल भेजा जाएगा।

प्रत्याशियों की हर गतिविधि पर पुलिस की नजर

आदर्श आचार संहिता का पालन कराने के लिए प्रत्याशियों की हर गतिविधि पर पुलिस की नजर है। वीडियो भी बनाई जा रही है। पुलिस की एफएसटी यानी फ्लाइंग स्क्वाड टीम को इस काम के लिए लगाया गया है। थाना स्तर पर बनी एफएसटी रोजाना थाना प्रभारी को रिपोर्ट दे रही है। उनकी रिपोर्ट के बाद प्रत्याशी या कार्यकर्ताओं पर आदर्श आचार संहिता का मुकदमा दर्ज किया जाएगा। एसएसपी ने बताया कि पुलिस की सभी टीमों को चुनाव में लगा दिया गया है। कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज : सेतकुआं निवासी पूर्व प्रधान महेन्द्र ने गांव के ही श्रीपाल, आदेश, राजू, जितेन्द्र, रोहित एवं धर्मसिंह के खिलाफ कोर्ट के आदेश पर एससी-एसटी एकट समेत गंभीर धराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। इंस्पेक्टर दिनेश उपाध्याय का कहना है कि मामले की जांच करके कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran