मेरठ, जागरण संवाददाता। Online Cheating मेरठ में आनलाइन ठगी के मामले बढ़ते जा रहे हैं। रिश्तेदार बनकर ठगी करने के मामलों में इजाफा हो रहा है। आए दिन थाने से लेकर साइबर सेल तक में शिकायतें पहुंच रही हैं। दो युवकों से भी इसी तरह ठगी की वारदात को अंजाम दिया गया। उनके खातों से हजारों रुपये निकाल लिए। उन्होंने अफसरों से शिकायत की है। मामले की जांच की जा रही है।

लिंक पर क्लिक करते ही पैसे साफ

नौचंदी थाना क्षेत्र के जैदी फार्म निवासी दानिश परतापुर की एक फैक्ट्री में काम करता है। उसने बताया कि शुक्रवार को उसके पास एक फोन आया और रिश्तेदार बनकर बात की। उसने पहचानने से मना किया तो ठग ने कुछ रुपये उसके खाते में भेजने के लिए कहा। वह उसकी बातों में आ गए और लिंक पर क्लिक करते ही 10 हजार रुपये कट गए। मैसेज आने पर दानिश ने ठग को फोन किया तो उसने रुपये लौटने के नाम पर एक मैसेज और भेज दिया।

ठग ने मोबाइल किया बंद

इस बार खाते से सात हजार रुपये साफ हो गए। इसके बाद ठग ने मोबाइल बंद कर लिया। उसने थाने पहुंचकर शिकायत की। उधर, मेडिकल के शेरगढ़ी निवासी विकास ने बताया कि शनिवार सुबह उसके पास फोन आया और ठग ने ससुराल पक्ष की ओर से बताया। बकौल विकास, उसने जो नाम बताया था वह ससुराल पक्ष में एक व्यक्ति का है।

साइबर सेल में शिकायत

उसने खाते में रुपये भेजने की बात कही। कहा कि शाम को जब आएंगे, तो रुपये ले लेंगे। त्यौहार के समय पर आना-जाना लगा रहता है, इसलिए बातों में आ गए। उसके खाते से नौ हजार रुपये उड़ा दिए। उसे शक हुआ तो फोन किया। ठग ने रुपये फिर से भेजने के लिए कहा तो विकास ने अपना फोन बंद कर लिया। इसके बाद साइबर सेल में शिकायत की। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt