मेरठ, जेएनएन। हापुड़ से अपने सहपाठी के साथ बाइक से कालेज जा रही बीबीए की एक छात्रा को अगवा कर गन्ने के खेत में दुष्कर्म का प्रयास किया गया। विरोध करने पर आरोपितों ने सहपाठी की पिटाई की और पीड़िता के कपड़े भी फाड़ दिए। पुलिस के सायरन से घबराए आरोपित छात्रा को मेरठ-हापुड़ हाईवे पर छोड़ कर भाग गए। पुलिस ने एक प्रधान को हिरासत में लेने के साथ ही एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है। छात्रा की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है।

ओवरटेक करके बाइक रोकी और खेत में ले गए

बुधवार को हापुड़ के बाबूगढ़ थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी छात्रा हापुड़ निवासी अपने सहपाठी के साथ बाइक से परतापुर (मेरठ) क्षेत्र में स्थित एक कालेज में जा रही थी। सहपाठी के अनुसार सुबह करीब साढ़े 11 बजे परतापुर थाना क्षेत्र के चांदसारा गांव के जंगल में बाइक सवार तीन युवकों ने ओवरटेक कर इनकी बाइक को रोक लिया। यहां पहले से दो युवक खड़े थे। सभी युवक छात्रा को बाइक से उतार कर गन्ने के खेत में ले गए। आरोपितों के चंगुल से मुक्त होने पर छात्रा ने डायल-100 पर घटना की सूचना दी। 15 मिनट बाद पीवीआर सायरन बजाते हुए वहां पहुंच गई। इसके बाद आरोपित खेतों के रास्ते छात्रा को लेकर वहां से भाग गए और उसे मेरठ-हापुड़ हाईवे पर छोड़ गए। यहां से छात्रा फटे कपड़ों में आटो में बैठकर 12 किलोमीटर दूर हापुड़ में अपने जीजा के घर पहुंची और आपबीती सुनाई।

ऐसे पकड़ में आए आरोपित

छात्रा को गन्ने के खेत में खींचते हुए चांदसारा गांव के लोगों ने वीडियो बना ली थी। बाइक के नंबर के आधार पुलिस ने खेड़ा बलरामपुर गांव के प्रधान सुनील को हिरासत में लेकर बाइक कब्जे में ले ली। इसके बाद पुलिस ने एक आरोपित मोहित को दबोच लिया। मोहित भी हापुड़ के बाबूगढ़ थाना क्षेत्र का रहने वाला है। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस