मेरठ, जेएनएन। Facebook पर दोस्‍ती करना एक छात्रा को काफी भारी पड़ गया। झांसी की रहने वाली इंटरमीडिएट की छात्रा से गढ़ रोड स्थित होटल में दुष्कर्म किया गया। आरोपित ने पीड़िता को मुंडाली गांव में घर के अंदर तीन दिन तक बंधक भी बनाकर रखा। आरोपित के चंगुल से छूटने के बाद छात्र झांसी चली गई। परिवार के साथ वापस आकर मेडिकल थाने में तहरीर दी। मंगलवार को मेडिकल थाने में पहुंची छात्रा ने बताया कि फेसबुक पर उसकी दोस्ती मुंडाली निवासी अक्षय कुमार से हुई थी। युवक ने उसे मेरठ में घुमाने का झांसा देकर बुला लिया। यहां होटल में ले गया। रातभर होटल में दुष्कर्म किया।

यह बोले इंस्‍पेक्‍टर

इसके बाद दोस्तों के साथ कार में बैठाकर मुंडाली ले गया। आरोपित के चंगुल से छूटने के बाद वह रोडवेज बस में सवार होकर घर पहुंची। इंस्पेक्टर प्रशांत मिश्र ने बताया कि मेडिकल में आनंद अस्पताल के सामने एक होटल में छात्रा सिर्फ एक रात रखी गई है, वहीं मुंडाली में तीन दिन तक उसे रखा गया है। ऐसे में मामला मुंडाली थाना क्षेत्र का बनता है। छात्रा को मुंडाली भेज दिया जाएगा।

एसएसआइ ने दुष्कर्म पीड़िता को थाने में धमकाया

आरोप है कि एसएसआइ पिंकी देशवाल ने दुष्कर्म पीड़ित छात्रा को थाने में धमकाया। कार्रवाई करने की बजाय उसे दोपहर तक कंप्यूटर रूम में बैठाकर रखा गया। बाद में धमकाकर मंदिर परिसर की तरफ बैठा दिया। एसएसआइ की धमकी के बाद भी छात्र ने थाने से जाने से इन्कार कर दिया। छात्र का कहना है कि पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है। वहीं, पिंकी का कहना है कि पीड़िता को धमकाया नहीं था।

कार्रवाई से हाथ खींचती है पुलिस

सूबे की सरकार महिला अपराध को लेकर गंभीर है। उसके बावजूद भी आंकड़ों में अपराध कम करने के लिए पुलिस कार्रवाई से हाथ खींच रही है। मंगलवार को मेडिकल थाने में दुष्कर्म पीड़िता दिनभर कार्रवाई के इंतजार में तमाशा बनी रही। शाम को उसे मुंडाली थाने में भेज दिया गया। तर्क दिया कि गढ़ रोड पर होटल में दुष्कर्म के बाद उसे तीन दिन तक मुंडाली में बंधक बनाकर रखा गया था। झांसी की रहने वाली छात्रा मंगलवार सुबह ही थाने पहुंच गई थी। उस समय थाने पर एसएसआइ पिंकी देशवाल मौजूद थे। दुष्कर्म के मामले को सुनकर पीड़िता को कंप्यूटर रूम में बैठा दिया गया। शाम तक कार्रवाई का भरोसा दिलाकर उसे बैठाए रखा। इसके बाद पीड़िता को बताया गया कि घटना स्थल मुंडाली थाना क्षेत्र का है, वहां पर उसे घर के अंदर तीन दिन तक बंधक बनाकर रखा था। छात्रा ने तब भी मेडिकल थाने में कार्रवाई की जिद की। आरोप है कि एसएसआइ ने थाने के अंदर ही पीड़ित छात्रा को धमकाया।

छात्रा से शादी करने का दावा

इंस्पेक्टर प्रशांत मिश्र ने बताया कि छात्रा को पुलिसकर्मियों के साथ मुंडाली थाने भेज दिया है। मुंडाली एसओ विनोद कुमार ने बताया कि मंगलवार की शाम को छात्रा को लेकर मेडिकल पुलिस आई थी। छात्रा से आरोपित युवक शादी भी कर चुका है। उसके बाद उसे साथ रखने से इन्कार कर दिया है। छात्रा की तहरीर पर आरोपित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। एसएसआइ पिंकी का कहना है कि छात्रा को धमकी नहीं दी गई। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस