मेरठ, जागरण संवाददाता। Molestation In Meerut मेरठ में मनचलों ने आतंक मचा रखा है। आधा दर्जन युवक जबरन एक महिला के घर में घुस गए। उन्होंने अभद्रता करते हुए विवाहिता से छेड़छाड़ करनी शुरु कर दी। शोर सुनकर महिला का 16 वर्षीय बेटा आ गया। उसने हमलावरों से अपनी मां को बचाने का प्रयास किया तो आरोपितों ने बच्चे की लाठी-डंडों से पिटाई कर दी। चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग आ गए। जिन्हें देखकर हमलावर फरार हो गए। उन्होंने आरोपितों के विरुद्ध तहरीर दी है।

यह है मामला

कोतवाली थाना क्षेत्र के सोहराब गेट निवासी विवाहिता के मुताबिक उसके पड़ोस में रहने वाला व्यक्ति उस पर गंदी नजर रखता है। 11 सिंतबर को परिवार के सभी लोग खरीदारी करने बाजार गए थे। घर पर महिला और उसका बेटा था। इसी का फायदा उठाकर आरोपित अपने साथियों संग जबरन महिला के घर में घुस गया। उसने अभद्रता करते हुए छेड़छाड़ करनी शुरु कर दी।

धमकी देते हुए फरार

महिला ने विरोध किया तो आरोपित मारपीट करने लगा। महिला की आवाज सुनकर उसका बेटा आ गया। उसने आरोपितों का विरोध किया तो हमलावरों ने उसकी पिटाई कर दी। जिसमे वह घायल हो गया। इसी बीच आस पड़ोस के लोग आ गए। जिन्हें देखकर हमलावर घबरा गए और धमकी देते हुए फरार हो गए। महिला ने अधिकारियों से मामले की शिकायत की है।

मेरठ में किशोर ने फांसी लगाकर दी जान

मेरठ : व्यापार करने के लिए रुपये न देने पर किशोर ने फांसी लगाकर जान दे दी। टीपीनगर थाना क्षेत्रांतर्गत एक कालोनी निवासी व्यक्ति यूपी पुलिस से सेवानिवृत्त है। कुछ समय पहले बीमारी के चलते उनके बेटे की मृत्यु हो गई थी। इसके बाद से पुत्रवधू अपने 17 वर्षीय बेटे को लेकर शास्त्रीनगर डी-ब्लाक में रहने लगी। एक सप्ताह पहले व्यापार करने के लिए किशोर ने अपनी मां से 60 हजार रुपये मांगे थे। लेकिन आर्थिक समस्या की वजह सेे महिला ने रुपये नहीं दिए। इसके बाद उसने अपने दादा से रुपये मांगे तो उन्होंने भी रुपये देने से मना कर दिया। इसी बात से नाराज होकर किशोर ने शास्त्रीनगर वाले घर में फांसी लगाकर जान दे दी। आस पड़ोस के लोगों ने मृतक के स्वजन को सूचना दी। देर शाम उन्होंने पुलिस को सूचना दिए बिना ही अंतिम संस्कार कर दिया।

Edited By: Prem Dutt Bhatt