मेरठ, जेएनएन। सीबीएसई की आज शनिवार से बोर्ड परीक्षा शुरू हो रही है। 10वीं और 12वीं के छात्र- छात्राओं ने पूरे साल तैयारी की है। अब परीक्षा की बारी है, तो चिंता छोड़कर परीक्षा में पूरी तल्लीनता से शिरकत करें। यह विश्वास रखें कि अब तक आपने जो कुछ पढ़ा है, वह सब अच्छे से परीक्षा में लिखेंगे। इससे आपको बेहतर अंक मिलेंगे। परीक्षा शुरू होने के साथ ही दीवान पब्लिक स्कूल के निदेशक एचएम राउत ने परीक्षार्थियों को कुछ जरूरी टिप्स भी दिए हैं। वहीं सेंट जोंस सीनियर सेकेंडरी स्कूल की प्रिंसिपल चंद्रलेखा जैन ने भी कुछ सुझाव दिए हैं।

शहर का नाम कर रहे रोशन 

पिछले कुछ वर्षो से सभी बोर्ड के विद्यार्थी अच्छे अंक से उत्तीर्ण होकर मेरठ का नाम रोशन कर रहे हैं। बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्र-छात्राएं विश्वास रखें कि इस बार भी वह अच्छा करेंगे। बोर्ड परीक्षार्थियों को सभी विशेषज्ञों, प्रिंसिपल और काउंसलर ने अच्छे नंबर पाने के लिए टिप्स दिए। इसका फायदा छात्र- छात्राओं को मिलेगा। मैं आप सभी को इनसे हटकर यह कहना चाहता हूं कि जिंदगी में हमें समय-समय पर विभिन्न परीक्षाओं का सामना करना पड़ता है, जैसे- स्कूल के लिए, बोर्ड परीक्षा के लिए, उच्च शिक्षा में प्रवेश के लिए, नौकरी पाने के लिए, पदोन्नति के लिए।

बस घबराना नहीं है

इन सभी से हमें घबराना नहीं चाहिए। बल्कि युवाओं को इन चुनौतियों का साहस और बुद्धिमानी से सामना करना चाहिए, ताकि भविष्य में सफलता मिल सके। बोर्ड परीक्षा करीब डेढ़ महीने तक चलेगी। बीच में ब्रेक भी मिलेगा। इस दौरान विद्यार्थियों को पढ़ाई पर ध्यान देना चाहिए। समय का सदुपयोग कीजिए। परीक्षा के दौरान दूसरों से अपनी तुलना न करें। मन विचलित करने वाले डिवाइस से दूर रहें।

ऐसे करें तैयारी 

दीवान पब्लिक स्कूल के निदेशक एचएम राउत का कहना है कि पौष्टिक आहार लेते रहें। देर रात तक न पढ़कर अपनी नींद पूरी करें, जिससे शरीर स्वस्थ रहे। परीक्षा के दिन परीक्षा केंद्र पर पहुंचने के लिए घर से समय से थोड़ा पहले निकलें। पूरा प्रश्नपत्र ध्यान से पढ़कर ही अपनी रणनीति बनाएं। इसके बाद ही उत्तर लिखना शुरू करें।

टाइम मैनेजमेंट की अहमियत 

सेंट जोंस सीनियर सेकेंडरी स्कूल की प्रिंसिपल चंद्रलेखा जैन का कहना है कि सीबीएसई के परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र पर पहुंचने से लेकर परीक्षा में उत्तर लिखने में टाइम मैनेजमेंट का ध्यान रखना चाहिए। परीक्षा केंद्रों पर सुबह साढ़े नौ बजे पहुंचने की कोशिश करें। 10 बजे उत्तरपुस्तिका मिलेगी। 10 बजे के बाद किसी भी छात्र को परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं मिलेगा। सीबीएसई की ओर से छात्रों को 15 मिनट का समय रीडिंग के लिए मिलता है। छात्रों को इसका उपयोग प्रश्नपत्र को पढ़ने में करना चाहिए। इस पंद्रह मिनट में वह प्रश्नों का चयन कर लें कि किस प्रश्न का उत्तर लिखना है। 

किसी भी प्रश्‍न को नहीं छोड़ें 

परीक्षा में छात्रों को किसी भी प्रश्न को छोड़ना नहीं चाहिए। आत्मविश्वास के साथ उत्तर लिखने की कोशिश करें। दूसरे छात्र की तैयारी को देखकर अपना संयम न खोएं। सुबह ध्यान लगाने से मन एकाग्रचित होता है। अगर किसी तरह की घबराहट हो रही है तो गहरी सांस लें। फिर विश्वास के साथ परीक्षा देने में जुट जाएं। अब परीक्षा शुरू हो रही है, इसलिए अंतिम समय में केवल महत्वपूर्ण प्रश्नों को रिवाइज करना चाहिए।

इनका भी रखें खास ध्‍यान

- परीक्षा में केवल ब्लू, रायल ब्लू बाल पेन, जैल पेन या फाउंटेन पेन का प्रयोग करें।

- स्कूल का आइकार्ड, परीक्षा का प्रवेश पत्र, पेंसिल, ब्रश, कलर, ज्योमेट्री बॉक्स आदि अपने पास रखें।

- उत्तरपुस्तिका यानी कॉपी पाने पर छात्र- छात्रएं विशेष सावधानी बरतें। अपना नाम कैपिटल में लिखें। हर बॉक्स में एक लेटर लिखें। नाम और सरनेम के बीच मे एक बॉक्स छोड़कर लिखें।इस बार आठ अंक में रोलनंबर भरना होगा। पहले सात अंक का रोलनंबर आता था। परीक्षार्थी को अपने रोलनंबर का पहला अंक सबसे पहले बाक्स के बाहर लिखना होगा।

- उत्तरपुस्तिका में निर्धारित जगह के अलावा कहीं भी नाम, रोलनंबर या कोई भी चिह्न् न बनाएं। अगर ऐसा करते हैं तो यह अनफेयर माना जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस