मेरठ, जेएनएन। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना का सर्किट हाउस में बदला हुआ रूप देखकर अधिकारी सन्न रह गए। ग्रेटर नोएडा की एनआरआइ सिटी के खिलाफ शिकायत को लेकर सुरेश खन्ना ने चिटफंड एंड सोसायटी के डिप्टी रजिस्ट्रार दिलीप कुमार गुप्ता को जमकर हड़काया। आगाह किया कि करीब दो सौ करोड़ रुपये के घोटाले वाले ग्रुप के खिलाफ एक्शन लेने के बजाय उनकी पैरवी करने पर बर्खास्तगी झेलनी पड़ेगी।

डिप्टी रजिस्ट्रार पर भड़के

मंत्री ने शिकायत का बंडल डिप्टी रजिस्ट्रार के तरफ फेंकने का प्रयास किया, किंतु गुस्से को नियंत्रित कर लिया। एनआरआइ सिटी डेवलपमेंट रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन, ग्रेटर नोएडा जिला गौतमबुद्धनगर के सदस्य गौरव नागर की ओमेक्स ग्रुप पर की गई शिकायत पर मंत्री डिप्टी रजिस्ट्रार पर जमकर बरसे।

तुम जैसे लोग करप्‍शन को दे रहे बढ़ावा

कहा कि प्रदेश सरकार भ्रष्टाचार को उखाड़ फेंकने के लिए काम कर रही है, और यहां तुम्हारे जैसे लोग स्वयं भ्रष्टाचार बढ़ा रहे हैं। मंत्री का तेवर देखकर अधिकारियों को पसीने छूट गए। डिप्टी रजिस्ट्रार को पांच मिनट तक हड़काने के बीच में कहा कि सभी विभागों के अधिकारी ध्यान से सुन लें, जल्द ही समीक्षा होगी। किसी की सिफारिश काम नहीं आएगी। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस