मेरठ। इन्वेस्टर्स समिट के बाद प्रदेश सरकार यूपी स्टार्टअप कॉनक्लेव का आयोजन करने जा रही है। लखनऊ के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट में 15 सितंबर को होने वाले इस कार्यक्रम के लिए मेरठ की कंपनी 'एचजेडटीसी प्राइवेट लिमिटेड' को भी न्योता भेजा गया है। इसमें स्टार्टअप के तहत अपने प्रोजेक्ट शुरू कर चुके युवाओं को सम्मानित किया जाएगा। इस कॉनक्लेव में प्रदेश के लगभग 100 से अधिक स्टार्टअप कंपनियां अपना प्रजेंटेशन देंगी। प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।

मेरठ का नाम इन्वेस्टर्स समिट के बाद अब स्टार्टअप कॉनक्लेव में भी जुड़ने जा रहा है। रोबोटिक्स, आर्टिफिशल इंटेलीजेंस आदि विषय पर कार्य कर रही 'एचजेडटीसी प्राइवेट लिमिटेड' कंपनी ने भारत सरकार की अनुमति के बाद स्टार्टअप शुरू किया है। कंपनी इस समय भारत में मेरठ के अलावा अमेरिका और कंबोडिया में कार्य कर रही है। कंपनी रोबोटिक्स पार्किंग, डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट और ट्रैफिक मैनेजमेंट प्रोजेक्ट पर कार्य कर रही है।

यह लाभ मिलेगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्राथमिकता में शामिल इस स्टार्टअप कार्यक्रम का आयोजन नेशनल लेवल पर भी किया जाएगा। इसमें इन्वेस्टर और इंडस्ट्री एक्सपर्ट मौजूद रहेंगे। इससे पहले यूपी के युवाओं के लिए स्टार्टअप कॉनक्लेव एक सुनहरा अवसर है। इसमें बेस्ट एंड सेक्टर, बेस्ट वुमैन एंटरप्रोंयोर, बेस्ट स्टूडेंट स्टार्टअप, प्रोडक्ट स्टेज, आइडिएशन स्टेज कैटेगरी में इनाम की श्रेणी रखी गई है।

मेरठ में दो स्थानों पर रोबोटिक्स पार्किंग

कंपनी इससे पहले टाउन हॉल और आबूलेन स्थित होटल अमृत के पीछे रोबोटिक्स पार्किंग का प्लान कैंट बोर्ड और एमडीए को दे चुकी है। कैंट बोर्ड ने इस प्लान पर विचार भी किया था, लेकिन अभी यह सिर्फ कागजों तक सीमित है। वहीं इसके अलावा टाउन हॉल में अभी विचार चल रहा है। इन्होंने कहा

हमारा फोकस रोबोटिक्स पार्किंग और ट्रैफिक मैनेजमेंट पर है। डिफेंस क्षेत्र में भी एक-दो प्रोजेक्ट पर कार्य चल रहा है। हमें खुशी है कि हमारा स्टार्टअप यूपी स्टार्टअप कॉनक्लेव के लिए चयनित हुआ है। ऐसे कार्यक्रमों से मेरठ जैसे शहर को बूम मिलेगा।

दिनेश गुप्ता, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, एचजेडटीसी प्राइवेट लिमिटेड

Posted By: Jagran