मेरठ, जागरण संवाददाता। Meerut Weather Update मेरठ में शुक्रवार के शनिवार को भी सुबह की शुरुआत तेज धूप के साथ हुई। इनदिनों भीषण गर्मी से ही रूबरू होना पड़ रहा है। वहीं दूसरी ओर अभी मानसून में भी देरी है। मेरठ में मानसून के आगमन की निर्धारित तिथि 29 जून है। कृषि प्रणाली संस्थान के प्रधान मौसम विज्ञानी डा. एन सुभाष ने बताया कि वर्तमान में मानसून की जो रफ्तार है उसके अनुसार इसमें दो तीन का विलंब हो सकता है। मेरठ और आसपास के जिलों में अभी बारिश होने के आसार भी नजर नहीं आ रहे हैं।

तापमान में एक डिग्री की वृद्धि

पिछले तीन चार दिनों में तापमान 40 के नीचे आने के बाद गुरुवार से पारा फिर बढ़ने लगा है। गुरुवार को बुधवार की अपेक्षा अधिकतम तापमान में एक डिग्री की वृद्धि हुई। गुरुवार को तेज धूप से लोग बचते नजर आए। वहीं, 27 से 29 जून तक मौसम वैज्ञानिकों ने बारिश के आसार जताए हैं। भारतीय कृषि प्रणाली अनुसंधान संस्थान मोदीपुरम के मौसम वैज्ञानिक डा. एन. सुभाष ने बताया कि गुरुवार को अधिकतम तापमान 36.6 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य रहा। वहीं, न्यूनतम तापमान 23 डिग्री जो सामान्य से तीन डिग्री कम था। उन्होंने बताया कि बीते रविवार से मंगलवार तक मौसम में भीषण गर्मी से जरूर कुछ राहत मिली, लेकिन बारिश की उम्मीद मायूसी में बदल गई। 27 जून से एक बार फिर मौसम में बदलाव आने के संकेत हैं। इसके अगले तीन दिनों तक गरज व तेज हवा के साथ बारिश की संभावना है।

इस पर ठहर गया मानसून, जुलाई के प्रथम सप्ताह में अनुमानित

मेरठ जनपद तापमान एक बार फिर तेजी से बढ़ रहा है। दो दिन के अंतराल में पारे में 4.6 डिग्री बढ़ोत्तरी हुई है। शुक्रवार को यह 37.8 डिग्री दर्ज किया गया। मेरठ में मानसून की अनुमानित तिथि एक जुलाई के बाद बताई जा रही है। जून में केवल दो दिन मानसून पूर्व बारिश केवल 43 मिलीमीटर हुई है। जबकि माह में औसतन 60 मिलीमीटर बारिश होती है। निजी मौसम एजेंसी स्काइमेट के अनुसार मानसून में इस समय ठहराव की स्थिति है। अरब सागर और बंगाल की खाड़ी दोनो ओर से मानसून को सक्रिय करने वाली स्थितियां रुक गई है।

मौसम केंद्र के प्रभारी ने बताया

कृषि विवि के मौसम केंद्र के प्रभारी डा. यूपी शाही ने बताया कि उत्तर प्रदेश के सोनभद्र, राबट्स गंज जैसे इलाकों में प्रवेश के बाद मानसून की गतिविधियां रुक गई हैं। इसके 27 - 29 जून तीव्रता पकड़ने के आसार है। जिससे जुलाई के प्रथम सप्ताह में मानसून आ सकता है। बीच में मानसून पूर्व बारिश हो सकती है। पिछले एक सप्ताह में आदृता का प्रतिशत भी निरंतर कम हो रहा है। शुक्रवार को अधिकतम प्रतिशत 57 और न्यूनतम प्रतिशत 34 रहा। जो 17 जून को आदृता का अधिकतम और न्यूनतम प्रतिशत क्रमश: 91 और 61 था । यही कारण है मौसम एक बार फिर से शुष्क हो रहा है। एक दो दिन में तापमान 40 डिग्री पर पहुंचेगा।

मौसम गर्म और शुष्क रहेगा

मेरठ जनपद में पांच-छह दिन तक मौसम गर्म और शुष्क रहेगा। पिछले चार दिनों से लोगों को बारिश होने की आस थी लेकिन मायूसी हाथ लगी। इसके साथ गर्मी से मिली राहत भी अब समाप्त होने वाली है। बुधवार को अधिकतम तापमान 35.6 डिग्री सेल्सियस रहा। यह सामान्य से दो डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 22.6 डिग्री रहा। कृषि विवि के मौसम केंद्र के प्रभारी डा. यूपी शाही ने बताया कि 28 - 29 जून को मौसम में बदलाव आएगा। मानसून की आहट महसूस की जा सकेगी। लेकिन बारिश 1 से दो जुलाई के पहले होने की संभावना नहीं है। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt