मेरठ, जागरण संवाददाता। Meerut Weather Update मेरठ में अभी कुछ और दिन ठंड अपना असर दिखाएगी। बुधवार को गणतंत्र दिवस पर सुबह की शुरुआत घने कोहरे के साथ ही हुई। आसपास के जिलों का भी यही हाल है। आज धूप दिखने के भी कम ही आसार है। सर्दी ने मंगलवार को भी जनपदवासियों को खूब सताया। सोमवार को धूप से थोड़ी राहत जरूर मिली, लेकिन मंगलवार को सूर्यदेव के दर्शन नहीं हुए। मौसम विज्ञानियों के अनुसार अब चार दिन शीतलहर चलने के आसार हैं। मंगलवार का न्यूनतम तापमान जम्मू से भी कम रहा। जम्मू में न्यूनतम तापमान 7.1 डिग्री रहा।

ऐसा रहा तापमान

भारतीय कृषि प्रणाली अनुसंधान संस्थान मोदीपुरम के मौसम विज्ञानी डा. एन. सुभाष ने बताया कि मंगलवार को न्यूनतम तापमान 4.6 डिग्री व अधिकतम तापमान 12 डिग्री दर्ज किया गया। मंगलवार को सूरज न निकलने के कारण लोग ठंड से कांपते रहे। डा. एन. सुभाष ने बताया कि अगले चार दिन में पारा चार डिग्री से नीचे आने की संभावना है। बताया कि सुबह के वक्त घना कोहरा भी छाया रहेगा। मंगलवार को जम्मू का न्यूनतम तापमान 7.1 डिग्री रहा।

इन तारीखों में चलेगी शीतलहर

मेरठ में तीन दिन के बाद सोमवार को महिलाओं को भी सूरज की धूप में कपड़े सुखाने का मौका मिला। आनेे वाले दिनों में आसमान साफ रहेगा। लेकिन मौसम विज्ञानियों ने तापमान गिरने की संभावना जताई है। भारतीय कृषि प्रणाली अनुसंधान संस्थान मोदीपुरम के मौसम विज्ञानी डा. एन. सुभाष ने बताया कि सोमवार को मौसम का अधिकतम तापमान 14.6 व न्यूनतम तापमान 6.8 डिग्री रहा। उन्होंने बताया कि मौसम साफ होने के बाद मंगलवार सुबह घना कोहरा हो सकता है। 26 से 28 जनवरी तक शीतलहर चल सकती है। वहीं, लगातार बारिश के बाद सोमवार को मौसम खुलते ही किसानों के चिंता भी कम हो गई। खेत में पानी भरने से गन्ना उठान प्रभावित हुआ है।

रिकार्डतोड़ बारिश

बीते रविवार को मेरठ में जनवरी माह में बारिश का 43 सालों का रिकार्ड टूट गया है। अब तक 112 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है और इस माह का अभी एक हफ्ता बाकी है। यह सामान्य से लगभग पांच गुना अधिक है। सोमवार को लगातार तीसरे दिन बारिश का अनुमान है। 25 जनवरी के बाद ही मौसम साफ होगा। उधर, कड़ाके की ठंड के बीच लगातार दूसरे दिन बारिश ने जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया। रविवार को शीतलहर के बीच दिनभर बूंदाबांदी जारी रही। बारिश के कारण लोग छुट्टी का लुत्फ नहीं उठा सके। शुक्रवार के बाद सूर्यदेव के दर्शन नहीं हो सके हैं। वहीं दूसरी ओर मेरठ और आसपास के जिलों में सोमवार की सुबह कई स्‍थानों पर घना कोहरा देखा गया। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt