मेरठ, जागरण संवाददाता। Meerut Weather Update मेरठ और आसपास के जिलों में गुरुवार को सुबह से ही आसमान पर घने बादल नजर आ रहे थे, और बाद में कुछ स्‍थानों पर हल्‍की बूंदाबांदी शुरू हो गई। आज बारिश होने की संभावना नजर आ रही है। वहीं बुधवार को तेज धूप के चलते दिन में भीषण उमस का ही सामना करना पड़ा था। 

इस बार कम बारिश 

इस बार सावन के महीने मेघ कम ही बरसे हैं। अगस्‍त में भी बारिश होने की कम की उम्‍मीद जताई जा रही है। हालांकि बीते तीन चार दिनों से आसमान बादलों से घिरा हुआ था।

मेरठ में इस प्रकार रहा तापमान

मेरठ में शनिवार को अधिकतम तापमान 33.9 और न्यूनतम तापमान 23:4 डिग्री सेल्सियस रहा। आर्द्रता अधिकतम प्रतिशत 89 न्यूनतम प्रतिशत 67 दर्ज किया गया। बिजनौर में भी बारिश हो रही है। वहीं मेरठ में बुधवार को अधिकतम तापमान 36.1 और न्यूनतम तापमान 25.1 डिग्री सेल्सियस रहा। आर्द्रता अधिकतम प्रतिशत 65 न्यूनतम प्रतिशत 53 दर्ज किया गया।

बागपत में छाए हुए थे बादल

बागपत जिले में रविवार की सुबह से ही बादल छाए थे। अलग-अलग स्थानों पर बारिश हुई। बारिश होने और बादलों के छाए रहने से मौसम ठंडा हो गया। जहां बारिश हुई वहां जलभराव होने से लोगों को थोड़ा परेशानी है। धान की फसल को फायदा पहुंचाया। मौसम विशेषज्ञ अंकिता नेगी ने बताया कि न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस रहा है।

सहारनपुर में भी झमाझम बारिश

वहीं सहारनपुर के सरसावा में रविवार की सुबह से ही रिमझिम बारिश से फिर मौसम सुहावना हो गया था। उमस भरी गर्मी से लोगों को राहत तो किसानों का लाभ मिल। बारिश से किसानों के खेत में खड़ी धान वह गन्ना की फसल लहलहा रही। जिले के अन्‍य स्‍थानों पर बारिश हुई थी। वहीं शामली में भी बूंदाबांदी हुई।

इस बार कम हो रही बारिश

बता दें कि शुक्रवार को सुबह से बादलों के बाद बागपत, बिजनौर में बारिश देखने को मिली थी वहीं मेरठ में बादल ही छाए हुए थे। कई अन्‍य जिलों में भी बारिश होने के आसार हैं। हालांकि सावन के महीने में इस बार अच्‍छी बारिश नहीं हुई है। सावन के महीने में भी पश्‍चिमी उत्‍तर प्रदेश में अच्‍छी बारिश नहीं हो रही है। जुलाई के महीने में भी कम ही बारिश हुई है। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt