मेरठ, जेएनएन। कारगिल की लड़ाई में अदम्य साहस का परिचय देकर भारत माता की रक्षा करते हुए शहीद हुए मेजर मनोज तलवार का बलिदान शिलापट्ट पर अंकित है, लेकिन जिम्मेदार लोग शहीद के बलिदान दिवस को भी सही नहीं लिख पा रहे हैं। कमिश्नरी आवास चौराहे के पास मेजर तलवार की प्रतिमा के नीचे शिलापट्ट पर गलत तिथि लिखी है। मीडिया के माध्यम से जानकारी होने पर सांसद ने नगर आयुक्त को पत्र लिखकर इसे ठीक करने को कहा है।

बता दें कि कारगिल की लड़ाई लड़ते हुए मेजर तलवार 13 जून 1999 को शहीद हुए थे। तीन दिन बाद 16 जून को तिरंगे में लिपटा शहीद मेजर तलवार का पार्थिव शरीर मेरठ आया था। कमिश्नरी आवास के पास मेजर तलवार की प्रतिमा के नीचे शहीद होने की तिथि गलत लिखी है। 13 जून की जगह 23 जून अंकित है। जानकारी होने पर सांसद राजेंद्र अग्रवाल मौके पर पहुंचे और शहीद की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित की।

नगर आयुक्त को लिखे पत्र में सांसद ने कहा है कि शहीद मनोज तलवार की प्रतिमा के नीचे उनका जीवन परिचय लिखा हुआ है। जिसमें शहीद होने की तिथि गलत है। जिसे तुरंत ठीक कराया जाना चाहिए। साथ ही उन्होंने शहर के अन्य जगह की प्रतिमाओं पर लिखे नाम और तिथियों का परीक्षण कराने को भी कहा है, जिससे इस तरह की त्रुटि ठीक हो सके। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt