मेरठ, जागरण टीम। मेरठ शहर में लूट की ताबड़तोड़ घटनाओं को अंजाम देने वाले कानपुर देहात के चार बदमाशों को एसओजी की टीम ने दबोच लिया। उन्होंने एसडीएम की पत्नी, दवा व्यापारी के चालक समेत लूट की आठ वारदातों को अंजाम दिया था। उनके पास से 1.70 लाख रुपये, दो तमंचे, लूटी गई चेन और घटना में इस्तेमाल की तीन बाइक मिली हैं। तीन बदमाश फरार हैं। कप्तान ने टीम को 25 हजार रुपये इनाम देने की संस्तुति की है। पूछताछ में पकड़े गए बदमाशों ने बताया कि वह मौत के कुएं में भी बाइक चलाते थे।

बाइक सवारों ने लूटा था महिला का पर्स

पुलिस लाइंस में आयोजित प्रेसवार्ता में एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि पिछले दिनों नौचंदी क्षेत्र में सहारनपुर में तैनात एसडीएम रामजी लाल की पत्नी कुंती देवी से बाइक सवार बदमाशों ने पर्स लूट लिया था। इसके बाद कोतवाली क्षेत्र के बुढ़ाना गेट पर भी महिला से चेन लूटी थी। गढ़ रोड पर बैंक से 50 हजार रुपये निकाल कर ले जा रहे दवा व्यापारी के चालक और उसी शाम सिविल लाइंस थानाक्षेत्र में बच्चा पार्क पर फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी से 2.61 लाख रुपये लूटे थे। एसओजी समेत पुलिस की कई टीम बदमाशों की धरपकड़ में लगी थी। रविवार रात पुलिस ने गिरोह के चार बदमाशों को नौचंदी थाना क्षेत्र से पकड़ लिया।

पांच जनवरी को मेरठ आए थे बदमाश

एसएसपी ने बताया कि बदमाश पांच जनवरी को मेरठ आए थे। तभी से रेलवे स्टेशन और उसके पास स्थित होटल में अलग-अलग रुके थे। जिन बाइकों से उन्होंने वारदात को अंजाम दिया था, वह उनकी ही हैं। बदमाशों ने गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर, बुलंदशहर और नोएडा में भी वारदात करने का इकबाल किया है।

रेकी कर वारदात को देते थे अंजाम

एसएसपी ने बताया कि बदमाश कानपुर से बाइक पर मेरठ आए थे। जहां वह रुकते थे, उसके आसपास ही किसी पार्किंग में बाइक खड़ी कर देते थे। इसके बाद दिन में सभी निकलते थे। बैंक, बाजार, भीड़भाड़ वाले इलाके में रेकी करते थे। इसके बाद जिसको लूटना होता था, उसे टारगेट पर ले लेते थे। एक बाइक पर दो बदमाश वारदात करते थे, जबकि अन्य आसपास ही रहते थे, ताकि कोई उनके साथियों के पास तक न पहुंच सके।

फाइनेंस की बाइक से लूट का धंधा

पुलिस की जांच में पता चला कि आरोपितों ने पिछले साल ही कानपुर से तीनों बाइक को फाइनेंस पर खरीदा था। किश्त भी पूरी जमा नहीं हुई हैं। आरोपित ज्यादा दिन अपने पास बाइक नहीं रखते हैं। किश्त जमा नहीं करने के बाद बैंक या फिर फाइनेंस कंपनी बाइक को वापस ले लेती है। इसके बाद फिर से नई बाइक लेकर लूट करते हैं।

एक घंटे में की थी दो वारदात

11 जनवरी को बदमाशों ने पहले आठ बजे सेंट्रल मार्केट में एसडीएम की पत्नी को निशाना बनाया था। इसके एक घंटे बाद आबूलेन पर लूट की थी। पूछताछ में बताया कि महिला के पर्स में रुपये कम थे, इसलिए दूसरी लूट की थी। इसी तरह से 17 जनवरी को पहले दवा व्यापारी के चालक को लूटा और फिर दो घंटे बाद राधिका फाइनेंस के कर्मचारी से लाखों रुपये की लूट की थी।

वारदात के बाद रकम लेकर चले जाते थे

पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि वारदात के बाद एक या दो साथी रुक जाते थे, जबकि अन्य माल लेकर चले जाते थे। कुछ दिन कानपुर में रुकने के बाद लौट आते थे और जो पहले से रुके हुए होते थे, वह चले जाते थे। बस, ट्रेन और अन्य साधनों से आना जाना करते थे। बाइक को वह तभी ले जाते थे, जब उनको पूरी तरह से शहर छोड़ना होता था।

15 बदमाशों का गिरोह आया था मेरठ

बदमाशों ने पुलिस को कई जानकारी दी हैं। आरोपित जिहार कंजर जाति से संबंध रखते हैं, जो बावरिया की तरह ही खतरनाक है। 15 बदमाशों का गिरोह मेरठ आया था। किसी बड़ी वारदात को करने की फिराक में भी थे। पकड़े गए सभी आरोपित जिहार कंजड़ जाति के हैं, जो पूरे कानपुर और आसपास के क्षेत्र में बड़ी वारदात करने के लिए जाने जाते हैं। बावरिया गिरोह की तरह ही लूट, डकैती के दौरान किसी की जान लेने से भी पीछे नहीं रहते।

वारदात से पहले करते थे रेकी

गिरोह के 15 सदस्य मेरठ आए थे। सभी अलग-अलग रहते हैं। वारदात से पहले रेकी करते हैं। देहात क्षेत्र में अकेले घरों को या फिर पाश कालोनियों के मकानों को भी निशाना बना लेते हैं। किसी बड़ी वारदात से पहले आरोपितों की गिरफ्तारी पर अफसरों ने राहत की सांस ली है।

पकड़े गए बदमाश

  • गैंग लीडर राहुल निवासी तुलसी नगर, थाना रसूलाबाद कानपुर देहात
  • कुलदीप उर्फ लल्ला निवासी मंगलपुर, थाना मंगलपुर कानपुर देहात
  • गोलू उर्फ दीपक निवासी तुलसी नगर, थाना रसूलाबाद कानपुर देहात
  • रामू निवासी मंगलपुर, थाना मंगलपुर कानपुर देहात

फरार बदमाश

  • विपिन निवासी पटेलनगर थाना कोतवाली उरई जिला जालौन
  • किशन निवासी तुलसी नगर, थाना रसूलाबाद, कानपुर देहात
  • भोला उर्फ मानसिंह निवासी मंगलपुर, थाना मंगलपुर कानपुर देहात। 

ये भी पढ़ें...

Ram Rahim Singh: पैरोल पर आए डेरा प्रमुख ने तलवार से काटा केक, मनाई खुशियां, हनीप्रीत के साथ चलाया सफाई अभियान

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट