मेरठ, जागरण संवाददाता। त्योहारी सीजन में पुलिस फोर्स अलर्ट पर है। दशहरे पर सुरक्षा व्यवस्था के लिए जिले को नौ जोन और 30 सेक्टर में बांट दिया गया है। इस दौरान जमीन से लेकर आसमान तक से नजर रखी जाएगी। 

सुरक्षा का पूरा खाका तैयार

 एसपी सिटी पीयूष सिंह ने बताया कि सुरक्षा का पूरा खाका तैयार हो गया है। प्रत्येक जोन का नोडल अफसर मजिस्ट्रेट और सीओ को बनाया गया है। इसके साथ ही उनके साथ ही एसपी देहात, एसपी क्राइम और एसपी ट्रैफिक नजर रखेंगे। 15 ड्रोन का इस्तेमाल क्षेत्रों में निगरानी रखने के लिए किया जाएगा।

पीएसी, आरएएफ, एक कंपनी क्यूआरटी की भी तैनाती

तीन कंपनी पीएसी के साथ ही एक कंपनी आरएएफ, एक कंपनी क्यूआरटी भी तैनात रहेगी। इसके अलावा शहर में दमकल की गाड़ियों भी रावण दहन वाली जगहों पर मौजूद रहेंगी। डाग स्क्वाड की भी तैनाती की जाएगी। इस दौरान खुफिया विभाग तो सतर्क रहेगी ही, साथ ही बिना वर्दी के पुलिस और महिला सिपाहियों की ड्यूटी भी लगा दी गई है। उधर, 170 पुलिसकर्मी पुलिस लाइंस में रिजर्व में भी रखे गए हैं।

12 बजे तक भारी वाहन प्रतिबंधित

एसपी यातायात जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में 14 जगहों पर रावण दहन किया जाएगा। इसके लिए ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगा दी गई है। दो टीएसआइ, एक हेड कांस्टेबल और 27 कांस्टेबल तैनात रहेंगे। इसके अलावा पीआरवी और फैंटम के पुलिसकर्मी भी आयोजन स्थल के आसपास ही रहेंगे। उन्होंने बताया कि शहर में 10 बजे तक भारी वाहनों के लिए नो एंट्री रहती है। दशहरे मेले को देखते ही रात 12 बजे तक भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध रहेगा। यदि सड़कों पर फिर भी भीड़ रहती है, तो प्रतिबंध कुछ देर के लिए और भी बढ़ाया जा सकता है। यह मौके की स्थिति को देखकर तय किया जाएगा।

यह रहेगी व्‍यवस्‍था  

32 : संवेदनशील व अतिसंवेदनशील क्षेत्र 

10 : सीओ

22 : इंस्पेक्टर

50 : दारोगा

250 : कांस्टेबल

03 : कंपनी पीएसी और 01 आरएएफ

Edited By: Parveen Vashishta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट