मेरठ, जागरण संवाददाता। Meerut News उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद से मान्यता प्राप्त देवनागरी इंटर कॉलेज में शुक्रवार सुबह कक्षा नौ का एक छात्र कट्टा के साथ पकड़ा गया। पकड़े जाने के बाद छात्र कट्टा लेकर आने का कारण बताने को तैयार नहीं थे।

दो दिन पहले हुई थी कहासुनी

प्राथमिक पूछताछ में स्कूल के शिक्षकों को छात्रों ने बताया कि रास्ते में कहीं गिरा पड़ा मिला और वहीं से उन्होंने उठा लिया। पुलिस को बुलाने पर छात्रों ने माना कि दो दिन पहले लाला का बाजार निवासी कक्षा के मॉनिटर ने लक्ष्मण पुरी के रहने वाले छात्र का नाम किसी अनुशासनहीनता की सूची में दे दिया था। उसके बाद गुरुवार को दोनों में कहासुनी काफी बढ़ गई।

कट्टे के बदले मोबाइल देता

उसके बाद ही उसने देव लोक निवासी एक सहपाठी से कट्टा दिलाने के बदले अपना मोबाइल दिलाने की बात कही। शुक्रवार को देव लोक से स्कूल जाने वाले छात्र ने लक्ष्मण पुरी वाले छात्र को कट्टा दिया। हालांकि कट्टा के साथ कोई कारतूस नहीं मिला है। दोनों छात्रों को पूछताछ के लिए पुलिस थाने ले गई है।

बेटी नहीं मिली तो आत्महत्या की चेतावनी

मेरठ : सात दिन बाद भी बेटी के पता नहीं चलने पर पिता ने पुलिस से गुहार लगाई तो ध्यान नहीं दिया। थक-हारकर पिता ने आत्महत्या की चेतावनी दी। वीडियो बनाकर इंटरनेट मीडिया पर वायरल कर दिया। पुलिस घर पहुंची और जल्द बेटी को बरामद करने का आश्वासन दिया। टीपीनगर थाना क्षेत्र के नई बस्ती निवासी राजीव ने बताया कि एक सप्ताह से बेटी तमन्ना लापता है। गुमशुदगी दर्ज करा दी थी, लेकिन पुलिस तलाश नहीं कर रही है।

जिम्मेदार पुलिस को बता रहे

कई बार थाने से लेकर दारोगा तक से मिल चुके हैं, लेकिन कुछ नहीं हुआ। आरोप है कि पुलिस ने अभद्रता भी की। इसके चलते ही उन्होंने गुरुवार को वीडियो बनाया, जिसमें वह बेटी के नहीं मिलने पर आत्महत्या की बात कर रहे हैं। इसका जिम्मेदार पुलिस को बता रहे हैं। जानकारी पुलिस को पहुंची तो वह भी घर पहुंच गई। थाना प्रभारी संतशरण सिंह ने बताया कि युवती बालिग है। पुलिस तलाश कर रही है, लेकिन पता नहीं चल रहा। उसका मोबाइल बंद आ रहा है। पिता को जल्द युवती को बरामद करने का आश्वासन दिया है। वह घर पर सही हैं।

Edited By: PREM DUTT BHATT

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट