मेरठ, जागरण संवाददाता। शरारती छात्रों ने गुरु और शिष्य के रिश्ते को शर्मसार करने वाली करतूत की है। छात्रों ने शिक्षिका को आइ लव यू बोला और वीडियो बनाकर उसे इंटरनेट मीडिया पर प्रसारित कर दिया। शिक्षिका की तहरीर पर तीन छात्र और एक छात्रा पर मुकदमा दर्ज किया गया है।  वहीं, पुलिस ने दो छात्रों को पकड़ लिया है। सुबह उनको जुवेनाइल कोर्ट में पेश किया जाएगा।

काफी दिनों से परेशान कर रहे थे छात्र  

किठौर थाना क्षेत्र निवासी एक युवती एक इंटर कालेज में शिक्षिका है। शिक्षिका ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि कालेज के ही तीन छात्र काफी दिनों से उसे परेशान कर रहे थे। शुरुआत में उन्होंने उनकी हरकतों पर ध्यान नहीं दिया। बाद में टोका तो भी वह नहीं माने। कुछ दिन पहले जब वह कक्षा में पढ़ा रही थीं, तब भी छात्र उन पर टिप्पणी कर रहे थे। इसके चलते ही कक्षा को छोड़कर बीच में ही चली गई थी। 

वीडियो हुई वायरल 

इस दौरान किसी ने वीडियो भी बना ली थी, जो बाद में वायरल हो गई। उनके एक जानकार ने वीडियो प्रसारित होने की बात बताई हुई वायरल इसके बाद वह विद्यालय के मैदान से जा रही थीं, तब आरोपित छात्र आइ लव यू बोल रहे थे। इस दौरान किसी ने वीडियो भी बना ली थी, जो बाद में वायरल हो गई। उनके एक जानकार ने वीडियो प्रसारित होने की बात बताई तो वह परेशान हो गई। तब इसकी जानकारी स्वजन को दी, जिसके बाद उन्होंने थाने में पहुंचकर तहरीर दी।

कक्षा 12 के तीन छात्र और एक छात्रा पर मुकदमा 

थाना प्रभारी अरविंद मोहन शर्मा ने बताया कि विद्यालय के कक्षा 12 के तीन छात्र और एक छात्रा पर आइटी एक्‍ट व छेड़छाड़ की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपितों में एक भाई-बहन हैं। मामले की जांच की जा रही है।

शिकायत पर नहीं दिया ध्यान

शिक्षिका के भाई ने बताया कि 12 नवंबर को शिक्षिका ने प्रधानाचार्य को लिखित में शिकायत की थी कि कुछ छात्र कक्षा में मोबाइल फोन लाते हैं। उनके साथ भी अभद्रता करते हैं लेकिन प्रधानाचार्य ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया था। इसके बाद छात्रों के हौसले बुलंद हो गए और उन्होंने वीडियो को वायरल कर दिया। वहीं, इस संबंध में प्रधानाचार्य ओमवीर सिंह से बात करने का प्रयास किया तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया। उनको मैसेज भेजा तो उसका भी जवाब नहीं दिया।

इन्‍होंने कहा 

मामला 10 दिन पहले संज्ञान में आया था। प्रधानाचार्य से मामले की जानकारी कर आरोपित बच्चों के नाम काटने के लिए आदेशित कर दिया गया था। बच्चों के नाम काट दिए गए हैं। नाम कटने के बाद वीडियो वायरल की गई। विद्यालय में शिक्षक-छात्रों के मोबाइल लाने पर प्रतिबंध है।

हाजी आरिफ मंजूर, प्रबंधक 

यह भी पढ़ें : मेरठ में शिक्षिका को I LOVE YOU बोलने वाले आरोपित दे रहे हैं धमकी, दहशत में टीचर और स्‍वजन

Edited By: Parveen Vashishta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट