मेरठ, जागरण संवाददाता। मेरठ में नशे में धुत टेंपो चालक ने एक के बाद एक कई लोगों को टक्कर मार दी। एक किमी तक पीछा करने के बाद लोगों ने उसे दबोच लिया और जमकर पीटा। सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई थी। आरोपित को भीड़ से बचाते हुए घायलों को उपचार के लिए भेज दिया।

लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र के समर गार्डन निवासी असरफ टेंपो चलता है। शुक्रवार रात वह नशे में धुत होकर घर की ओर जा रहा था। अंजुम पैलेस के पास उसने सबसे पहले छोटो हाथी में टक्कर मारी, जिसके बाद वह तेज गति से भागने लगा। रास्ते में उसने बाइक, साइकिल और पैदल चल रहे शहजाद, जावेद, अतीक, राजा और दो अन्य को घायल कर दिया। लोगों ने पीछा कर आरोपित को एक मीनार मस्जिद के पास दबोच लिया और जमकर पिटाई की।

उसे भागने की भी कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हो सका। सूचना पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने गुस्साए लोगों से चालक को किसी तरह छुड़ाया। इसके बाद घायलों को जिला अस्पताल भेज दिया गया। साथ ही आरोपित को पकड़कर थाने ले आए। थाना प्रभारी ने बताया कि घायलों की ओर से तहरीर मिल गई है। रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

साले के झगड़े में जीजा गिरफ्तार

मेरठ के सरूरपुर थाना क्षेत्र के हर्रा खिवाई निवासी जावेद की ससुराल जाकिर कालोनी में है। गुरुवार को किसी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए वह ससुराल आया था। रात में साले का झगड़ा पड़ोसियों से हो गया था। इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई थी। आरोप था कि गोली भी चली थी। सूचना पर पहुंची पुलिस को देखकर दोनों पक्ष फरार हो गए थे, जबकि पुलिस जावेद को पकड़कर थाने ले आई। वहीं, चर्चा थी कि शुक्रवार को पुलिस ने जावेद को छोडऩे के नाम पर सेटिंग कर ली थी, लेकिन मामला मीडिया में आने पर उसे गिरफ्तार दिखा दिया गया। थाना प्रभारी ने आरोप को निराधार बताया। उन्होंने कहा कि एक आरोपित को पकड़ा है, जबकि अन्य की तलाश की जा रही है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt