मेरठ, जागरण संवाददाता। वाहनों से 50 हजार लीटर से ज्यादा डीजल चोरी करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मुकदमा दर्ज कर पांचों को जेल भेज दिया है।  

बिना नंबर की कार में सवार थे आरोपित  

कोतवाली सीओ अरविंद चौरसिया ने बताया कि गुरुवार रात चेकिंग के दौरान देहलीगेट पुलिस ने बिना नंबर की स्कार्पियो कार को पंडित गंगाराम धर्मशाला केसरगंज पर रुकवाया। वसीम पुत्र इश्तियाक निवासी बुड्ढापीर जानी, मयंक चौहान और प्रिंस कुमार पुत्रगण श्याम सिंह चौहान एवं इश्तकार पुत्र इकबाल निवासीगण सिवालखास और अनुज लाकड़ा पुत्र बसन्त सिंह निवासी जनता कालोनी सोनीपत (हरियाणा) कार में सवार थे। कार को कब्जे में लेकर पांचों आरोपितों को थाने लाया गया। पूछताछ में उन्होंने बताया कि वे वाहनों से डीजल चोरी करते हैं। उनके कब्जे से एक तमंचा, दो कारतूस, बोल्ट कटर, सब्बल, पाइप, कई नम्बर प्लेट और प्लास्टिक की तीन केन बरामद हुईं। 

हरियाणा सीमा तक करते थे तेल चोरी 

गैंग सरगना गैंगस्टर वसीम ने बताया कि दिल्ली हाईवे, गढ़ रोड, बागपत रोड, शामली रोड, सोनीपत रोड, मुजफ्फरनगर-थानाभवन रोड स्थित ढाबों और रेस्टोरेंट पर रात में खड़े होने वाले वाहनों से डीजल चोरी करते थे। छह महीने में 50 हजार लीटर से ज्यादा डीजल चोरी कर गांवों की दुकानों पर बेच चुके हैं। आरोपितों के मुताबिक, उन्होंने कुछ ढाबे और रेस्टोरेंट मालिकों को भी इस धंधे से जोड़ रखा है। उन्हें जेनरेटर चलाने के लिए चोरी का तेल देते थे, इसलिए तेल चोरी के समय ढाबों और रेस्टोरेंट के सीसीटीवी कैमरे बंद रखे जाते थे। 

. . . . . . . . 

दहेज उत्‍पीड़न के मामले में मुकदमा दर्ज

मेरठ, जागरण संवाददाता। सरधना कस्बा निवासी निधि की तहरीर पर एसएसपी ने सास, ससुर, जेठ, जेठानी व ननद के खिलाफ दहेज उत्‍पीड़न के मामले में थाना पुलिस को मुकदजा दर्ज करने के आदेश दिए। पुलिस ने आरोपित ससुरालियों के खिलाफ मुकदमा दर्जकर जांच शुरू कर दी है। 

Edited By: Parveen Vashishta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट