मेरठ, जागरण संवाददाता। Deepak Tyagi Murder खजूरी गांव के दीपक का सिर अब तक नहीं मिला है और न ही उसके हत्यारे। शुक्रवार को भी पुलिस ने 400 मीटर नाले से दो पंप लगाकर पानी निकाला लेकिन सिर नहीं मिला। डाग स्क्वाड घटनास्थल से नाले तक पहुंचने के बाद रुक गया। इसी वजह से पुलिस को शक है कि हत्यारों ने सिर को नाले में फेंका। पुलिस इस हत्याकांड में दीपक के परिवार की रंजिश की सभी घटनाएं खंगाल चुकी है।

अगवा करने के बाद कर दी गई थी हत्‍या  

गांव खजूरी निवासी धीरेंद्र त्यागी उर्फ भगतजी के बेटे अमन उर्फ दीपक त्यागी को बीते रविवार को घर से अगवा कर लिया गया था। मंगलवार को जंगल में दीपक त्यागी का शव पड़ा मिला था। हत्यारोपित शव से सिर काटकर साथ ले गए थे। एसपी देहात केशव कुमार का कहना है कि अभी नाले में तलाशी अभियान जारी रहेगा। पुलिस की दो टीमें हत्यारों को ढूंढ रहीं हैं। फिलहाल दीपक की महिला दोस्त और उसकी भाभी से पूछताछ की जा रही है। 

मवाना से छीना गया था दीपक के पास मिला मोबाइल 

दीपक की जेब से एक मोबाइल मिला था। पुलिस की जांच में सामने आया कि इस मोबाइल को मवाना के एक व्यक्ति से छीना गया था। यह दीपक तक कैसे पहुंचा, इसकी जांच की जा रही है। एसएसपी रोहित सजवाण का कहना है कि पुलिस जल्द ही हत्या का राजफाश करेगी। पुलिस को कुछ सुराग मिले हैं।

यह भी पढ़ें: दीपक का सिर काटकर ले गए थे हत्‍यारे, 60 घंटे में पुलिस ने 50 लोगों से की पूछताछ, नतीजा जीरो

- - - - 

रेड लाइट पर खड़ी कार में बस ने मारी टक्कर, हंगामा

मेरठ, जागरण संवाददाता। तेजगढ़ी चौराहे पर रेड लाइट पर खड़ी होंडा सिटी कार में रोडवेज बस ने पीछे से टक्कर मार दी। हादसे के बाद हंगामा हो गया। कार चालक और बस चालक में हाथापाई हो गई। पुलिसकर्मियों ने किसी तरह से मामला शांत कराया। करीब आधा घंटे तक विवाद चलता रहा, जिसके चलते जाम लग गया। मेडिकल थाना प्रभारी बच्चू सिंह ने बताया कि रोडवेज बस की गाड़ी में टक्कर लग गई थी, जिसके बाद विवाद हो गया था। बाद में दोनों पक्षों में समझौता हो गया, इसलिए तहरीर भी नहीं दी गई। 

Edited By: Parveen Vashishta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट