मेरठ, जेएनएन। Meerut Coronavirus News यह एक राहत देने वाली बात है कि वेस्‍ट यूपी में कोरोना संक्रमण का ग्राफ लगातार कम हो रहा है। मेरठ और आसपास के जिलों में रविवार को कुल 143 नए मामले सामने आए हैं। मेरठ में 3731 सैंपलों की जांच में 51 में वायरस मिला। जबकि जिले में किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि रविवार के आंकड़ों के मुताबिक 926 लोगों की रिपोर्ट प्रतीक्षारत है। 108 डिस्चार्ज हुए हैं, जबकि 409 मरीज होम आइसोलेशन में रखे गए हैं। जिले में सवा चार सौ मरीजों की कोविड से मौत हो चुकी है, जो वेस्ट यूपी में सबसे ज्यादा है।

बागपत में आठ पाजिटिव

बागपत जिले में सीएमओ डा. आरके टंडन ने बताया कि कोरोना का संक्रमण कम तो नहीं हो रहा है, लेकिन थोड़ी राहत तो हो जाती है। रविवार को तो कोई संक्रमित नहीं मिला है, लेकिन शनिवार की रात लैब से मिली रिपोर्ट में आठ लोग कोरोना पॉजिटिव मिली है। 22 लोग भी संक्रमण से मुक्त होकर अपने घर पहुंच गए है। उन्होंने कहा कि बुजुर्ग और 50 वर्ष से अधिक के लोगों को महामारी के इस माहौल में सबसे ज्यादा खतरा बना हुआ है। इन्हें सर्दी से भी और कोरोना वायरस से भी बचना है।

बिजनौर में 11 नए केस

बिजनौर जिले में रविवार को 11 कोरोना मरीजों की संख्या और बढ़ गई है। अब कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4229 हो गई है। रविवार को छह मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे है। इसके साथ ही स्वस्थ होने वालों की संख्या 4007 हो गई है। अब जिले में मात्र 160 सक्रिय केस है। रविवार को कोरोना संक्रमण के मकड़जाल में फंसने वालों की संख्या में 11 का इजाफा हो गया है। अब संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 4229 हो गई है। जबकि रविवार को छह मरीजों ने कोरोना की जंग जीत ली है। अब संक्रमितों की कुल संख्या मात्र 4007 हो गई है। अब तक जिले भर में 62 लोगों की मौत हो चुकी है। अब जिले में 160 सक्रिय मरीज शेष है। जिले भर से अब तक 258317 लोगों के सैम्पल लेकर जांच को भेजे जा चुके है।

बुलंदशहर में 20 मरीज

बुलंदशहर जिले में रविवार को कोरोना के 20 नए मरीज सामने आए और आठ मरीज डिस्चार्ज किए गए। जिले में अब संक्रमितों की संख्या 5808 हो गई है।स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक रविवार को 2400 लोगों की जांच की गई। इसमें गुलावठी में पांच मरीज, बीबीनगर में दो मरीज, दानपुर में एक, डिबाई में एक मरीज, शिकारपुर में एक मरीज, जेल में एक मरीज, खुर्जा में एक मरीज और स्याना में एक मरीज मिला। इसके अलावा बुलंदशहर के शहरी क्षेत्र में केपी रोड पर एक, पटेल नगर में दो मरीज, इंदिरानगर में एक, टीचर्स कालोनी में एक और टांडा स्टेडियम के पास एक मरीज मिला। लोगों की लापरवाही के चलते ही संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। अब तक 5460 मरीज कोरोना मुक्त होकर घर पहुंच चुके हैं।

मुजफ्फरनगर में 23 में संक्रमण

मुजफ्फरनगर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के चलते एक बुजुर्ग की मौत हो गई। बुजुर्ग को संक्रमण की पुष्टि होने के बाद मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज में उपचार के लिए भर्ती कराया गया था। सीएमओ डा. प्रवीण कुमार चोपड़ा ने बताया कि रविवार को आई रिपोर्ट के अनुसार जनपद के 23 लोगों में कोविड-19 की पुष्टि हुई है। बताया कि 38 मरीज स्वस्थ होकर हास्पिटल से डिस्चार्ज हो गए। उन्होंने बताया कि शहर के रामपुरी निवासी एक बुजुर्ग की कोरोना वायरस संक्रमण के चलते मौत हो गई। बताया कि बुजुर्ग को पाजीटिव आने के बाद मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया था। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लोगों में बेचेनी है। लोगों को संक्रमण के प्रति जागरूक किया जा रहा है।

सहारनपुर में 27 कोरोना संक्रमित

सहारनपुर जिले में रविवार को आई रिपोर्ट के अनुसार, 27 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। हालांकि अच्छी बात यह है कि 32 कोरोना मरीज स्वस्थ भी हुए है। जिलाधिकारी अखिलेश कुमार सिंह ने बताया कि लगातार पाजिटिव मिलना जिले के लिए अच्छी बात नहीं है। जिला प्रशासन अपनी तरफ से कोई कमी नहीं कर रहा है। हर स्तर पर लड़ाई लड़ी जा रही है। उनका कहना है कि जिले में अब तक नौ हजार 575 केस मिल चुके हैं। जिनमें आठ हजार 283 मरीज ठीक भी हो चुके है। 122 लोगों की कोरोना वायरस के कारण मौत हो चुकी है। वर्तमान में जिले में एक हजार 170 मरीज सक्रिय रह गए हैं। डीएम ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग रोजाना एक हजार से अधिक लोगों के सैंपल लेकर लैब में जांच के लिए भेज रहा है।

शामली में तीन नए मामले

शामली जिले में रविवार को तीन कोरोना संक्रमित मिले हैं और 32 मरीज स्वस्थ हुए हैं। संक्रमितों की कुल संख्या 3502 हो गई है और सक्रिय केस 82 हैं। खेड़की गांव निवासी 26 वर्षीय युवक, होशंगपुर निवासी 27 वर्षीय युवक संक्रमित हैं। एक संक्रमित की रिपोर्ट देर शाम आई है। जिलाधिकारी जसजीत कौर ने बताया कि कोविड अस्पताल में व्यवस्था का जायजा वह लगातार ले रही हैं। घर में आइसोलेट मरीजों की प्रभावी निगरानी के निेर्देश दिए हुए हैं। संक्रमितों के संपर्क में आने वालों की जांच भी लगातार हो रही है। कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। सभी से अपील है कि सावधानी बरतें।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप