जागरण संवाददाता, मेरठ। कमिश्नर सुरेन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री से मेरठ शहर के जाम की समस्या के समाधान के लिए बच्चा पार्क चौराहे से सदर तहसील तक एलिवेटिड रोड निर्माण के प्रस्ताव को स्वीकृति देने की मांग की। सीएम ने उन्हें आश्वासन भी दिया है जिसके बाद शहर की कई समस्याओं के समाधान की योजनाओं पर अचानक गतिविधियां तेज हो गई हैं।

कमिश्नर सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि बुधवार शाम को उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मेरठ शहर की कई समस्याओं पर बात की थी। मुख्यमंत्री ने उन्हें समस्याओं के समाधान के लिए तैयार की गई परियोजनाओं को मंजूरी देने का आश्वासन भी दिया है।

सेतु निगम बनाएगा फिर से एस्टीमेट: बच्चा पार्क से सदर तहसील तक बनने वाले एलिवेटिड मार्ग का प्रस्ताव तीन साल से लंबित है। अब अतिक्रमण की बाधा के चलते यह लंबित है। कमिश्नर सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री से चर्चा के बाद इस एस्टीमेट को नए सिरे से बनाने का निर्देश सेतु निगम को दिया गया है।

ओडियन नाले के पुल को मिली स्वीकृति: कमिश्नर ने बताया कि शहर में जलभराव का कारण एनएच 235 (मेरठ-हापुड़ मार्ग) पर ओडियन नाले का पुराना पुल है। इस पुल के नवनिर्माण का 4.68 करोड़ का प्रस्ताव केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रलय ने स्वीकृत करके वार्षिक योजना में शामिल कर लिया है। जल्द इसका निर्माण होगा।

बस अड्डे के लिए जमीन तलाश करने का निर्देश: मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद भैंसाली रोडवेज बस स्टैंड को शहर से बाहर शिफ्ट करने के लिए रोडवेज अफसरों को जमीन तलाश करने का निर्देश दिया गया है। साथ ही एनसीआरटीसी अफसरों को भी इसके लिए जिम्मेदारी दी गई है। 

Edited By: Himanshu Dwivedi