मेरठ, जागरण संवाददाता। मेरठ में नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह के एक सदस्य को पुलिस ने दबोच लिया। आरोपित काफी लोगों से ठगी की वारदात को अंजाम दे चुके हैं। पूछताछ में उसने बताया कि गिरोह में कुल छह सदस्य हैं, जिनमें पांच पुरुष और एक महिला भी है। फरार आरोपितों की तलाश में दबिश दी जा रही है।

टीपीनगर थाना क्षेत्र के गुप्ता कालोनी निवासी आदित्य ने बताया उनकी जान-पहचान बागपत रोड निवासी पंकज अग्रवाल से थी। वह सभी विभागों में अपनी पकड़ की बात करता था। एक रिश्तेदार ने उसने कपिल के जरिये नौकरी लगवाने के लिए कहा। दोनों पक्षों में बात हो गई, जिसके बाद उन्होंने करीब पौने दो लाख रुपये उसे दे दिए। काफी समय बाद भी जब नौकरी नहीं लगी तो उन्होंने रुपयों की मांग की। आरोप है कि उनको धमकी दी जाने लगी। उनकी शिकायत पर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में आरोपित ने बताया कि गिरोह में चार अन्य पुरुष सदस्य के साथ एक महिला भी हैं। वह लोगों को नौकरी लगवाने का झांसा देकर ठगी की वारदात को अंजाम देते हैं। बड़ी संख्या में लोगों को चूना लगा चुके हैं। वहीं, मामले की जानकारी पर टीपीनगर निवासी एक अन्य पीडि़त भी थाने पहुंच गया था। उसने बताया कि आरोपित उससे 16 लाख रुपये ले चुके हैं, लेकिन नौकरी नहीं लगी है। थाना प्रभारी ने बताया कि एक आरोपित पंकज को पकड़ा है। अन्य की तलाश की जा रही है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt