मेरठ । आयुक्त सभागार में गुरुवार को आयोजित संभागीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक में कई बिंदुओं पर सहमति बनी। निगम की बसों का संचालन मेरठ व बागपत के ग्रामीण क्षेत्रों तक करने और सीएनजी व एलपीजी चालित वाहनों को बढ़ावा देने के विषय पर वार्ता केंद्रित रही।

आयुक्त अनीता सी मेश्राम ने कहा कि वाहनों को परमिट या लाइसेंस जारी करने से पहले संबंधित विभाग को फिटनेस की जांच करनी होगी। साथ ही बिना लाइसेंस के दौड़ रहे वाहनों को जब्त करना होगा। मुख्य रूप से स्कूली वाहनों को नियमित रूप से जांच की जाएगी। इसके लिए विशेष रूप से अभियान चलाने के लिए निर्देशित किया। आयुक्त ने सीएनजी व एलपीजी चालित वाहनों को बढ़ावा और सुरक्षा आदि जरूरतों को भी पूर्ण करने के संबंध में निर्देशित किया।

आरटीओ विजय कुमार ने बताया कि परिवहन प्राधिकरण मेरठ और बागपत में बस सेवा का विस्तार करेगा। इसमें मुख्य रूप से दुल्हेड़ा से सोफीपुर, देदवा, मीठेपुर से डोरली होते हुए जिटौली तक और बालैनी से पुरा महादेव, बुढ़सैनी से अमीननगर सराय से बिनौली तक बस सेवा का शुभारंभ किया जाएगा।

आयुक्त ने मंथन के बाद बैठक में रखे अन्य बिंदुओं को भी सहमति प्रदान कर दी। बैठक में मुख्य रूप से डीएम अनिल ढींगरा, उप परिवहन आयुक्त संजय माथुर व सिटी ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन के एमडी विजय कुमार आदि अधिकारी मौजूद थे।

दो दिन बाद पहुंचेगा शहर तक गंगाजल : गंगाजल प्रोजेक्ट से शहर को मिलने वाली पेयजल की आपूर्ति चालू होने में अभी दो दिन लगेंगे। जल निगम के एक्सईएन मुन्ना सिंह ने बताया कि गुरुवार को गंगनहर का पानी भोलाझाल पर स्थित वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के भीतर ले लिया गया। जिससे प्लांट की सफाई का काम किया जा रहा है। शुक्रवार से पानी का ट्रीटमेंट होगा। शहर में पेयजल शनिवार तक पहुंचेगा।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप