मुजफ्फरनगर, जेएनएन। श्यामपुरी, पंजाबी कालोनी और नई आबादी मोहल्ले से बरामद हुई मतांतरण की शिकार विवाहिताओं को हमीरपुर पुलिस साथ ले गई। दोनों आरोपित पुलिस की पकड़ से दूर हैं। दोनों विवाहिताओं ने मतांतरण कबूल किया है, लेकिन एक विवाहिता के मतांतरण के बाद निकाह के प्रमाण नहीं मिले हैं।

यह है मामला

कस्बा के रेलवे रोड स्थित श्यामपुरी, पंजाबी कालोनी से बुधवार को हमीरपुर के राठ थाना क्षेत्र की विवाहिता को बरामद किया गया, जिसका मतांतरण कराकर आरोपित मोनू खान उर्फ वसीम खान ने निकाह कर उसे घर पर रखा था। पूछताछ के बाद पुलिस ने नई आबादी में रहमान पठान के घर दबिश देकर दूसरी महिला को भी बरामद किया था। दोनों के अपहरण की रिपोर्ट हमीरपुर में दर्ज है। बुधवार देर रात हमीरपुर के राठ थाना की पुलिस टीम एक विवाहिता के भाई को लेकर खतौली थाने पहुंची। पूछताछ में दोनों विवाहिताओं ने अपना मतांतरण कबूला है, जिसमें श्यामपुरी से मिली विवाहिता के निकाह के प्रमाण मिले हैैं, जबकि नई आबादी से बरामद विवाहिता के मतांतरण, निकाह के प्रमाण-पत्रों की खोज की जा रही है। दोपहर बाद हमीरपुर पुलिस दोनों महिलाओं को साथ ले गई। एक विवाहिता के साथ उसका चार वर्षीय पुत्र भी गया है। उधर, आरोपितों की धरपकड़ के लिए क्राइम ब्रांच और पुलिस टीम लगाई गई है। एक आरोपित वसीम के बारे में बताया गया है कि वह जम्मू में है, लेकिन दूसरे रहमान पठान के बारे में पुलिस उसके स्वजन से पूछताछ कर रही है।

इनका कहना है...

दोनों महिलाओं को हमीरपुर पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया है। आरोपितों की धरपकड़ के प्रयास किए जा रहे हैैं। हमीरपुर पुलिस का सहयोग किया जाएगा। दोनों ने मतांतरण कबूल किया हैं।

-यशपाल सिंह, इंस्पेक्टर खतौली

यह भी पढ़ें: मुजफ्फरनगर में दो विवाहित सहेलियों का मतांतरण करा किया निकाह, थाने पहुंचे हिंदू संगठन बोले- लव जिहाद

 

Edited By: Taruna Tayal