मेरठ, जेएनएन। मेरठ में कोरोना के चार और संक्रमित मिलने से रोज के संक्रमितों की अपेक्षा आंकडा तो कम रहा पर कोरोना का संकट जारी है। मेरठ में अब कुल संख्‍या 373 हो गई। साथ ही 22 लोगों की मौत भी हो चुकी है। राहत की बात तो यह है कि 223 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं मुजफ्फरनगर कोरोनो फ्री होने के बाद से अब कोरोना के तेजी से मामले बढ़ रहे हैं। रविवार को छह नए कोरोना के मरीज मिले। इससे जिले में घबराहट बढ़ गई है। यहां अब कुल संक्रमितों की संख्‍या 46 हो गई है। जबकि 24 ठीक हो चुके हैं। हांलाकि अभी भी यहां 22 एक्‍टिव केस हैं। सीएमओ का कहना है कि जिले में मरीजों की जांच चल रही है।

वहीं बुलंदशहर में तीन कोरोना के मरीज मिलने से कुल संख्‍या 106 हो चुकी है। साथ ही सहारनपुर में तीन मरीज मिलने के साथ कुल कोरोना मरीज 216 हो चुके हैं। वहीं बागपत में एक और शामली में भी एक नए कोरोना के मामले सामने आए हैं। बागपत में एक मरीज संक्रमित मिला। संख्या 29 तक पहुंच गई है। शामली में भी एक पॉजिटिव केस मिलने से आंकड़ा 31 पर पहुंच गया है। कुल मेरठ आसपास में 18 संक्रमित मिले हैं।  

मेरठ के सीएमओ ने बताया है कि मेरठ में कोरोना केस में मामले थोड़ी राहत देनी वाली है। लेकिन कोरोना का संकट बना हुआ है। चार मिले मरीजों को कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया है। साथ ही अब इनके संपर्क की तलाश जारी है। बताया कि इनके संबंध में जानकारी जुटाई जा रही है। 

...तो क्‍या मेरठ हो सकता है कोरोना फ्री 

मेरठ में कोरोना के मामले अगर ऐसे ही कम आते रहे और इलाज की प्रक्रिया सही तरीके से चलती रहे तो कोरोना से शहर मुक्‍त हो सकता है। दो दिनों के आंकडे कम रहे हैं। इससे कोरोना संक्रमितों की गति कम हुई है। साथ ही इनके संपर्क में भी कमी रही है। अब उम्‍मीद है कि कोरोना कोई और संकट न लेकर आए तो मेरठ कोरोना से मुक्‍त हो सकता है। 

अन्‍य जिलों में कोरोना का कहर 

मेरठ के साथ-साथ आसपास के जिलों में कोरोना का कहर तेजी से फैला हुआ है। मुजफ्फरनगर में तो कोरोना मुक्‍त हो भी गया था पर महाराष्‍ट्र से आए कामगारों ने मुजफ्फरनगर में कोरोना का संकट गहरा दिया। वहीं बिजनौर बागपत और शामली मे भी कुछ ऐसे ही कोरोना के मामले तेजी से फैल रहे हैं। हालांकि इनके इलाज के दौरान ठीक हुए मरीजों में इजाफा भी हुआ है। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस