बागपत, जेएनएन। क्षेत्र के मवीखुर्द और पुरा महादेव गांव में तेंदुए की दस्तक के बाद क्षेत्र के आधा दर्जन गांवों में ग्रामीण डर के साये में रह रहे हैं। बेसहारा पशुओं को अपना शिकार बना रहा है। पिछले एक सप्ताह से भी अधिक समय से तेंदुआ लगातार मवीखुर्द गांव के जंगल में देखा जा रहा है। गांव में घुसकर हमले का प्रयास कर चुका है।

गुरुवार की रात तेंदुए के पैरों के निशान पुरा महादेव के जंगल मे देखे गए थे, जिसके बाद गांव के ग्रामीणों ने ऐलान कराकर ग्रामीणों को सतर्क रहने की अपील की। सूचना से ग्रामीण दहशत में थे। किसान झुंड बनाकर अपने खेतों में जा रहे हैं। इन गांवों में शाम सन्नाटा पसर जाता है। पुरा महादेव और मवीखुर्द गांव से सटे गांव हरियाखेड़ा, बुढ़सैनी, मतानतनगर आदि गांवों के ग्रामीण भी पूरी सतर्कता बरत रहे है। जंगल में अकेले जाने से डर रहे है।

ग्रामीण विपिन मिलिक, लक्की चौधरी, सौरभ, गुल्लू, शौकीन, रहमत आदि का कहना है कि अगर जल्द ही तेंदुआ नहीं पकड़ा गया तो वह जानमाल का नुकसान कर सकता है। वन विभाग लापरवाही बरत रहा है और वह यह मानने को तैयार नही है की यह तेंदुआ है। वन विभाग के लोग यहां आते है और यह कहकर चले जाते है की तेंदुआ यहां अब नही है।

Edited By: Taruna Tayal