मेरठ, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने और आर्टिकल 35ए हटाने की मांग को लेकर एसएस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने एनएच-58 पर शोभापुर गांव के सामने हाईवे की एक साइड जाम कर दी। जिससे हाईवे की एक साइड पर वाहनों की लंबी लाइन लग गई और राहगीरों को मुश्किलें झेलनी पड़ी। मौके पर पहुंचे पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने समझा बुझाकर जाम खुलवाया।

कमिश्नरी चौराहे पर आमरण अनशन

एसएस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भंवर सिंह चौहान 20 फरवरी से कमिश्नरी चौराहे पर आमरण अनशन पर बैठे थे। उनकी मांग कश्मीर से धारा 370 और आर्टिकल 35ए हटाने की है। आरोप है कि तीन दिन में किसी भी अधिकारी ने उनकी सुध नहीं ली। एडीएम ज्ञापन लेकर लौट गए। इससे क्षुब्ध भंवर सिंह चौहान और उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने शोभापुर गांव के सामने एनएच-58 की दिल्ली की ओर जाने वाली साइड जाम कर दी। कुछ ही देर में हाईवे पर एक साइड वाहनों की लंबी लाइन लग गई। जिसके चलते दूसरी साइड से वाहनों को निकाला जाने लगा। कुछ राहगीरों की जाम लगाने वालों से तीखी नोकझोंक भी हुई।

मौके पर पहुंचे सीओ

जाम की जानकारी मिलने पर सीओ दौराला जितेंद्र कुमार, इंस्पेक्टर कंकरखेड़ा एपी मिश्र मौके पर पहुंचे और जाम लगा रहे लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह अपनी मांग पर अड़े रहे। बाद में एसडीम सदर कमलेश कुमार गोयल मौके पर पहुंचे। काफी जद्दोजहद के बाद उन्होंने समझा बुझा कर जाम खुलवाया। हालांकि भंवर सिंह चौहान ने इसके बाद भी आमरण अनशन खत्म नहीं किया। जाम खुलने के बाद वह कार्यकर्ताओं के साथ वापस कमिश्नरी चौराहे की ओर रवाना हो गए। उन्होंने अधिकारियों को मांग पर कार्रवाई कराने के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। 

Posted By: Taruna Tayal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस