मेरठ, जेएनएन। जहरखुरानी गिरोह के निशाने पर ई-रिक्शा चालक हैं। एक बार फिर बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया है। साकेत चौराहे से सवारी बनकर बैठे दो बदमाशों ने शास्त्रीनगर सेक्टर दो में वारदात को अंजाम दिया। पीड़ित मेडिकल थाने पहुंचा तो उसे नौचंदी भेज दिया, वहीं नौचंदी पुलिस ने मेडिकल जाने के लिए कहा।

गंगानगर थाना क्षेत्र के बक्सर निवासी सचिन ई-रिक्शा चलाता है। उसने बताया कि रविवार दोपहर साकेत चौराहे पर दो युवक खड़े मिले थे। उन्होंने शास्त्रीनगर चलने के लिए कहा। पहले तो उन्होंने उसे मूंगफली और चिप्स खिलाने का प्रयास किया, लेकिन उसने मना कर दिया। उसने मफलर नहीं पहन रखा था, इसलिए जबरन अपना मफलर उसकी गर्दन पर लपेट दिया। जैसे ही वह सेक्टर दो में पहुंचे तो उसकी आंख बंद होने लगी। बदमाश उसका ई-रिक्शा और करीब दो हजार रुपये लूटकर उसे फेंककर फरार हो गए। रातभर वह सड़क किनारे ही पड़ा रहा। सोमवार को किसी तरह घर पहुंचा तो स्वजन ने उपचार कराया। मंगलवार को वह मेडिकल थाने पहुंचा तो उसे नौचंदी थाने भेज दिया। नौचंदी थाने गया तो मामला मेडिकल का बता दिया। वहीं, कुछ दिन पहले बदमाशों ने परतापुर और हापुड़ रोड पर भी रिक्शा चालक को निशाना बनाया था।

महिला से छेड़छाड़, विरोध पर मारपीट

मवाना : क्षेत्र के गांव में सोमवार देर रात व्यक्ति ने मकान में घुसकर महिला के साथ छेड़छाड़ कर दी और विरोध करने पर मारपीट कर दी। शोर मचाने पर आरोपित दीवार फांदकर फरार हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंचे, लेकिन आरोपित फरार हो गया। महिला ने तहरीर दी है।

पीड़िता ने दी तहरीर में बताया कि उसके पति सड़क हादसे में घायल हो गए थे तथा अस्पताल में थे। स्वजन भी अस्पताल में ही थे। सोमवार रात वह घर पर अकेली थी। देर रात गांव का ही व्यक्ति नशे में घर में आ गए और उसके साथ छेड़छाड़ की और विरोध करने पर मारपीट की। शोर मचाने पर वह दीवार से कूदकर भाग निकला। सूचना पर पुलिस भी पहुंची, लेकिन वह हत्थे नही चढ़ा। स्वजन के लौटने पर उसने मामले से अवगत कराया। उनके विरोध करने पर आरोपित ने घर में ईटें फेंकनी शुरू कर दी। जिसमें उसका देवर घायल हो गया।

थाना प्रभारी विष्णु कौशिक का कहना है कि तहरीर मिली है, जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran