मेरठ, जेएनएन। शहर में होने वाली दुर्घटनाओं को रोकने व जाम की समस्या के समाधान के लिए छह प्रमुख मार्गो पर बने अवैध कट बंद कराए जाएंगे। साथ ही टूटे डिवाइडर ठीक दुरुस्त होंगे। यह काम 15 दिन के भीतर नगर निगम और कैंट बोर्ड को कराना है। इसकी जिम्मेदारी जिलाधिकारी ने संबंधित मजिस्ट्रेट और सीओ को सौंपी है।

हाल ही में एसएसपी ने जिलाधिकारी को इस संबंध में एक रिपोर्ट भेजी थी। जिसमें उन्होंने शहर के छह प्रमुख मार्गो का सर्वे कराकर वहां बने अवैध कट और टूटे डिवाइडरों को बंद कराने की मांग की थी। एसएसपी का कहना है कि इन अवैध कट और टूटे डिवाइडरों से वाहन चालक गलत दिशा में मुड़ जाते हैं। जिससे दुर्घटनाएं होती हैं और जाम लगता है। अवैध कट की मदद से अपराधी भी भागने में सफल हो जाते हैं। 15 दिन में होगा समाधान

जिलाधिकारी के बालाजी ने सभी मार्गो के लिए संबंधित नगर मजिस्ट्रेट, अपर नगर मजिस्ट्रेट व एसडीएम की जिम्मेदारी निर्धारित करके आदेश जारी किया है। ये काम के दौरान शांति व्यवस्था भी बनाएंगे। इन प्रमुख मार्गो पर होगा काम

1. बेगमपुल से दिल्ली रोड मेट्रो प्लाजा तक

2. जीरो माइल बेगमपुल से साकेत चौराहा होते हुए मेडिकल कालेज तक।

3. बेगमपुल से हापुड़ अड्डा चौराहा तक।

4. हापुड़ अड्डा चौराहा से तेजगढ़ी चौराहे तक।

5. हापुड़ अड्डा चौराहे से एल ब्लाक तिराहे तक।

6. एल ब्लाक तिराहे से बिजली बंबा बाईपास तक। इन्होंने कहा-

अवैध कट और टूटे डिवाइडर तमाम समस्याओं का कारण बने हैं। इनके सुधार के लिए आदेश दिया गया है। 15 दिन में यह काम पूरा कराया जाएगा।

के बालाजी, जिलाधिकारी

Edited By: Jagran