मेरठ, जागरण संवाददाता। How To Eat बहुत से लोग खाने में पौष्‍टिक चीजें पसंद करते हैं। लेकिन उन्‍हें खाने का सही तरीका नहीं मालूम रहता है। भागदौड़ के समय में बहुत से इतने जल्‍दबाजी में रहते हैं कि वह किसी भी तरह से बस पेट भरना चाहते हैं। जबकि केवल पेट भरने से स्‍वास्‍थ्‍य ठीक नहीं रहता है। इसके लिए खाने का अपना एक सही तरीका भी जरूरी है। नेचुरोपैथी की चिकित्‍सक डा. इंदू का कहना है कि स्‍वस्‍थ और रोगमुक्त रहने का एक तरीका है। जब भूख लगे तभी खाना चाहिए और खाना खाते समय चबा-चबाकर ही खाना चाहिए।

आप ऐसे समझें

उनका कहना है कि कई लोग कभी भी कुछ भी खाते रहते हैं। ऐसा करना उचित नहीं है। बार बार खाने से आंत को अतिरिक्‍त काम करना पड़ता है। इससे कई बार खाना भी नहीं पचता है। बहुत से लोग खाना खाते समय एक दो बार चबाते हैं फिर भोजन को निगल लेते हैं। इससे जो काम दांत को करना चाहिए, वह लंबे समय तक आंत को करना पड़ता है। डा. इंदू का कहना है कि जब हम चबा- चबा कर भोजन करते हैं, उस समय मुंह में लार बनता है।बीमारी का भी खतरा

इससे भोजन पेट में जाने पर जल्‍दी पचता है। जो लोग बगैर भोजन को चबाए पेट में डालकर भर लेते हैं। उससे पेट में बहुत अधिक अम्‍ल बनता है। जिससे पेट में कई तरह की बीमारी का खतरा बन जाता है। डा. इंदू बताती हैं कि कुछ लोग यह सोचते हैं कि पेट भर लेने से वह स्‍वस्‍थ हो जाएंगे। जबकि ऐसा नहीं है। अगर कम मात्रा में भी भोजन को किया जाए तो शरीर को स्‍वस्‍थ बनाया जा सकता है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt