मेरठ, जागरण संवाददाता: हस्तिनापुर से पहली बार विधायक बने दिनेश खटीक को योगी मंत्रीमंडल में जगह मिल गई है। उन्हें रविवार को योगी सरकार में बतौर मंत्री शामिल किया गया है। लखनऊ हुए शपथ ग्रहण समारोह में दिनेश ने पद व गोपनीयता की शपथ ली।

दिनेश खटीक वर्ष 2017 में पहली बार हस्तिनापुर से चुनाव लड़े और योगेश वर्मा को हराकर बड़े अंतर से चुनाव जीते। दिनेश खटीक की पृष्ठभूमि संघ की रही है। वे युवावस्था से ही संघ से जुड़े रहे। 45 वर्षीय दिनेश 1994 में फलावदा के खंड कार्यवाह बने। इसके बाद विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल के साथ ही भाजपा में विभिन्न पदों पर रहे।

साढ़े चार वर्ष बाद मेरठ को मंत्रीमंडल में जगह

योगी मंत्रीमंडल में पिछले साढ़े चार वर्ष से मेरठ का कोई विधायक या एमएलसी मंत्री नहीं था। इससे पहले सपा सरकार में किठौर से विधायक शाहिद मंजूर अखिलेश की कैबिनेट में श्रम एवं सेवायोजन मंत्री थे। इससे पहले भाजपा के शासनकाल में पूर्व विधायक और भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा. लक्ष्मीकांत बाजपेयी जबकि बसपा की सरकार में हाजी याकूब कुरैशी मंत्री रहे थे।

तीन पीढ़ी की संघ सेवा

दिनेश खटीक की तीन पीढ़ी संघ से जुड़ी रही है। उनके दादा बनवारी खटीक जनसंघी थे। पिता देवेंद्र कुमार भी स्वयं सेवक संघ से जुड़े रहे। दिनेश खटीक पर बचपन से ही संघ की विचारधारा की छाया रही और वे उससे प्रभावित होकर जुड़े।

दिनेश के हम दो हमारे दो

दिनेश खटीक की पत्नी का नाम आरती है। वे गृहणी हैं। इनका एक पुत्र प्रांजल और एक बेटी आराध्या हैं। दिनेश अपने परिवार के साथ गंगानगर मेरठ में ही रहते हैं।

ईंट भट्टे का है व्यवसाय

दिनेश खटीक का परिवार शुरू से ही ईंट भट्टे का कारोबार करता है। फलवादा में इनका ईंट भट्टा है। पिता के बाद दिनेश ने भी इस काम को संभाला और आगे बढ़ाया।

भाई पूर्व जिपं सदस्य

दिनेश खटीक के छोटे भाई नितिन खटीक ने भी राजनीति में हाथ आजमाया हुआ है। नितिन 2016 से 2021 तक जिला पंचायत सदस्य रहे हैं। इस बार उन्हें जिला पंचायत में पार्टी ने टिकट नहीं दिया था।

दिनेश खटीक: एक परिचय

नाम: दिनेश खटीक

पिता: देवेंद्र कुमार

माता: सरोज देवी

पत्नी: आरती

बेटा: प्रांजल

बेटी: आराध्या

सामाजिक-राजनीतिक सफर

1994: फलावदा, मेरठ के खंड कार्यवाह

2006 तक: विहिप व बजरंग दल में काम किया

2007: जिला मंत्री, मेरठ भाजपा

2010: जिला उपाध्यक्ष, मेरठ भाजपा

2013: जिला महामंत्री, मेरठ भाजपा

 2017: हस्तिनापुर विस क्षेत्र से निर्वाचित

 बतौर विधायक दिनेश खटीक के साढ़े चार वर्ष का रिपोर्ट कार्ड

गंगा नदी पर 157 करोड़ रुपये की लागत से चेतावाला पुल का निर्माण कराने से मेरठ और बिजनौर के बीच की दूरी कम हुई। फतेहपुर प्रेम समेत दूसरे स्थानों पर तटबंध बनवाकर बाढ़ के खतरे को कम किया।

-12 करोड़ रुपये की लागत से नगर पालिका व नगर पंचायतों में विकास कार्य कराए।

-हस्तिनापुर व बली गांव समेत अन्य जगहों में तीन डिग्री कालेज, इंटर कालेजों का निर्माण शुरू कराया है।

- युवाओं के लिए स्टेडियम निर्माण कराने के लिए जगह का चिन्हांकन कर प्रस्ताव तैयार कराकर लखनऊ भिजवा दिया है।

-चीनी मिल 20 अक्टूबर तक हर हाल में चल जाएगी और किसानों का समस्त भुगतान पहले हो जाएगा।

-रेलवे लाइन के लिए हस्तिनापुर से लखनऊ तक जल्द यात्रा शुरू की जाएगी।

-विधानसभा क्षेत्र के पांच संपर्क मार्गों के चौड़ीकरण की प्रक्रिया शुरू कराई गई है।

-मवाना में मध्य गंग नगर पर पांच करोड़ की लागत से कराया जाएगा पुल का निर्माण।

-मवाना में फायर स्टेशन का निर्माण कराने के साथ आवासों का निर्माण भी कराया।

-रामराज सड़क का निर्माण कराने के साथ विस क्षेत्र की 131 जीर्णोद्वार व लेपन का कार्य कराया। 

Edited By: Taruna Tayal