सहारनपुर, जागरण संवाददाता। महिला से दुष्कर्म और उसकी बेटी से दुष्कर्म के प्रयास पर खनन माफिया और पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल और उसके बेटों की कुल 148 चल-अचल संपत्तियों को बुधवार को कुर्क किया जाएगा। इन संपत्ति में जमीन, कोठी, वाहन, ज्वेलरी, फर्नीचर आदि शामिल हैं, जिनकी कीमत दो अरब तीन करोड़ रुपये है। अदालत के आदेश पर कुर्की की कार्रवाई होगी। हाजी इकबाल के लगातार फरार रहने के कारण एक माह पूर्व उसकी कोठी पर कुर्की नोटिस चस्पा किया गया था। एक माह में सरेंडर न करने पर संपत्ति कुर्क करने की चेतावनी दी गई थी। 

यह है मामला 

एक महिला ने तीन माह पूर्व बताया था कि इकबाल और उसके बेटों एवं सहयोगियों ने उसे एक फार्म पर बुलाया। यहां पर महिला के साथ  इकबाल और उसके सहयोगियों ने दुष्कर्म किया। इकबाल के बेटों ने उसकी बेटी के साथ दुष्कर्म की कोशिश की थी। पुलिस ने दुष्कर्म और पोक्सो एक्ट के तहत महिला थाने में मुकदमा दर्ज किया था।

अदालत ने धारा 82 के तहत चेतावनी नोटिस कर दिया था जारी 

महिला थाना पुलिस ने इकबाल के लगातार फरार रहने के कारण एक माह पूर्व अदालत से कुर्की की कार्रवाई के लिए आवेदन किया था। इसके बाद अदालत ने धारा 82 के तहत चेतावनी नोटिस जारी कर दिया था। एक माह बीतने के बाद भी इकबाल ने सरेंडर नहीं किया तो अदालत ने कुर्की के आदेश मंगलवार को जारी कर दिए 

हैं। एसएसपी विपिन ताडा ने बताया कि धारा 83 के तहत बुधवार को इकबल की कोठी की कुर्की की जाएगी।

148 चल-अचल संपत्तियां 

एसएसपी ने बताया कि कोठी में इकबाल और उसके बेटों की कुल 148 संपत्तियां हैं। जिसे बुधवार को कुर्क किया जाएगा। इन संपत्ति में जमीन, कोठी, वाहन, ज्वेलरी, फर्नीचर आदि सामान हैं, जिसकी कीमत दो अरब तीन करोड़ रुपये हैं। 

इकबाल हुआ 50 हजार का इनाम 

सहारनपुर, जागरण संवाददाता। पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल पर डीआइजी की तरफ से 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। पुलिस ने हाजी इकबाल की तलाश तेज कर दी है। पुलिस को अंदेशा है कि हाजी इकबाल विदेश भाग चुका है। तत्कालीन एसएसपी ने इकबाल के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी कर दिया था। एसएसपी विपिन ताडा ने इनाम की पुष्टि करते हुए कहा कि उसकी तलाश में कई टीमें लगाई गई हैं।

Edited By: Parveen Vashishta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट