जेएनएन, मेरठ। केंद्र और राज्य सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देश के बाद बुधवार को चार माह बीस दिन बाद जिम खोले गए। इतने दिन बाद जिम जाने के प्रति लोगों का जोश देखते ही बन रहा था। कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए जिम को सैनिटाइज किया गया। प्रत्येक सदस्य ने मशीनों का प्रयोग करने के बाद उन्हें सैनिटाइज किया। एक समय में मात्र 15 लोगों को प्रवेश मिला। कोरोना संक्रमण से सुरक्षा की दृष्टि से जिम में चेंजिंग रूम, लॉकर, मसाज और स्पा की सुविधा बंद कर दी गई है।

इन्होंने कहा:::

कोरोना काल में सबकुछ बदल गया है। अब घर से बाहर निकलना आसान नहीं है। ऐसे में जिम में आकर एक्सरसाइज करना थोड़ा मुश्किल होगा। लेकिन जिम की साफ-सफाई और सुरक्षा व्यवस्था से हम संतुष्ट हैं।

-जितेंद्र सक्सेना, गंगानगर

---

कोरोना महामारी में लोग घर से निकलते हुए डर रहे हैं। ऐसे में जिम के प्रति लोगों में विश्वास होना जरूरी है। अब लोग स्तरीय जिम में ही वर्कआउट करना पसंद करेंगे।

-आलिया खान, शास्त्रीनगर कई दिन बाद जिम आकर बहुत अच्छा लग रहा है। जिम में आकर वर्कआउट करना एक अलग ही अनुभव है। इसे घर में महसूस नहीं किया जा सकता है।

-सचिन पूनिया, मंगलपांडे नगर

प्रत्येक सेशन के बाद जिम और मशीनों को सैनिटाइज किया जा रहा है। इसके साथ ही जिम में चेंजिंग रूम और लॉकर की सुविधा भी बंद कर दी गई है। लोग तौलिया और पानी की बोतल अपने साथ लाएंगे।

-अजय जायसवाल, डायरेक्टर पल्स जिम आबूलेन अभी जिम को सैनिटाइज किया जा रहा है। पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था करने के बाद सोमवार को जिम खोला जाएगा।

-मनीष कौशिक, सेंटर मैनेजर चिजल जिम साकेत पहले दिन लोगों ने आने से पहले जिम और आने वाले सदस्यों के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त की। साथ ही साफ-सफाई के बारे में भी बात की। इसके बाद टाइम टेबल तय करने के बाद ही जिम में प्रवेश किया।

-सुमित त्यागी, फिटनेस मैनेजर, मेट्रोपॉलिटन हेल्थ क्लब मंगल पांडे नगर

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप