मुजफ्फरनगर, जेएनएन। पूर्व राज्यसभा सदस्य हरेंद्र मलिक ने मंगलवार शाम को कांग्रेस छोड़ने का एलान कर दिया। पार्टी छोडऩे के विभिन्न कारण बताते हुए हाईकमान को इस्तीफा भेज दिया है। उनके पूर्व विधायक पुत्र और कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष पंकज मलिक ने भी कांग्रेस को अलविदा कह दिया है। हालांकि राजनीति के धुरंधर पिता-पुत्र ने अपना अगला पड़ाव सरेआम नहीं किया है।

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा के सलाहकार व इनेलो से राज्यसभा सदस्य रहे हरेंद्र मलिक ने मंगलवार की देर शाम अपने प्रेमपुरी स्थित आवास पर पत्रकारों से वार्ता करते हुए कांग्रेस छोडऩे की घोषणा की। उन्होंने कहा कि वर्ष 2004 से कांग्रेस का हाथ थामकर कार्य करते रहे, लेकिन वर्तमान समय में पार्टी के भीतर चल रहे विभिन्न कारणों के चलते मोहभंग हो गया। उन्होंने कहा कि अपरिहार्य कारणों से तत्काल पार्टी छोडऩे का निर्णय लिया है। कांग्रेस हाईकमान को इस्तीफा भेज दिया गया है। पूर्व विधायक पंकज मलिक ने कांग्रेस को अलविदा कह दिया। दोनों के एक साथ कांग्रेस छोडऩे को लेकर राजनीतिक गलियारों में कई तरह की चर्चाएं शुरू हो गई हैं। हरेंद्र मलिक ने कहा कि अब किस दल में जाएंगे, इसकी घोषणा जल्द ही की जाएगी।

सपा में जाने के लग रहे कयास

हरेंद्र मलिक के कांग्रेस छोडऩे के साथ ही समाजवादी पार्टी मे जाने की चर्चाएं शुरू हो गई हैं। मलिक का समाजवादी पार्टी से पुराना नाता भी रहा है। बीते दिनों रालोद में जाने की चर्चाएं भी चली थीं।

 

Edited By: Taruna Tayal