मुजफ्फरनगर, जेएनएन। भौराकला थाना क्षेत्र के शिकारपुर गांव निवासी मौलवी को तीसरी पत्नी की चाहत ने मौत के मुंह में पहुंचा दिया। मौलवी की पहली पत्नी ने गुप्तांग पर छुरी से वार कर दिया, जिससे मौलवी की मौत हो गई। पुलिस ने हत्या के आरोप में उसकी पत्नी हाजरा को आला कत्ल छुरी के साथ गिरफ्तार कर लिया।

यह है मामला

भौराकला थानाध्यक्ष जीतेंद्र तेवतिया ने बताया कि बुधवार को जानकारी मिली थी कि एक व्यक्ति की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है व स्वजन उसे दफनाने का प्रयास कर रहे हैं। पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो देखा एक अधेड़ व्यक्ति, जिसके शरीर पर चोट के निशान है, को स्वजन दफनाने में लगे हैं। पुलिस ने घटना संदिग्ध मानते हुए शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया । पोस्टमार्टम रिपोर्ट में शरीर पर चोट के निशान व गुप्तांग पर गहरा घाव होने की पुष्टि हुई।

पुलिस ने मृतक वकील अहमद की पत्नी हाजरा से सख्ती से पूछताछ की। हाजरा ने हत्या की बात स्वीकारते हुए बताया कि मृतक ने दो शादी कर रखी थी। अब तीसरी शादी की तैयारी कर रहा था। पहली शादी हाजरा के साथ की थी, जिसके चार विवाहित व एक अविवाहित पुत्री है। दूसरी शादी अन्य महिला से की थी, जो उसे छह महीना पहले छोड़कर चली गई थी। मृतक पत्नी हाजरा से बार-बार तीसरी शादी की बात कह रहा था, जबकि हाजरा का कहना था कि पहले उसकी अविवाहित पुत्री की शादी होगी। इस विवाद में बुधवार में दोनों में झगड़ा हो गया व पत्नी ने उसके साथ मारपीट करते हुए उसके गुप्तांग पर छुरी से हमला कर दिया, जिसके कारण उसकी मौत हो गई। मृतक पड़ोस के भौरा खुर्द गांव में एक मस्जिद में मौलवी था। भौराकलां पुलिस ने मृतक की पत्नी हाजरा को आला कत्ल छुरी बरामद करते हुए गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

 

Edited By: Taruna Tayal