मेरठ, जेएनएन। कसेरूखेड़ा में खटकाना पुल के पास अंडर ग्राउंड नाले की सफाई के लिए पहुंची सीवरजेट मशीन को लेकर बवाल खड़ा हो गया। मशीन मंगाने का श्रेय लेने के लिए भाजपा के मौजूदा पार्षद और कांग्रेस के पूर्व पार्षद आमने-सामने आ गए। दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई और हथियार लहराए गए। दोनों पक्षों के कई लोग घायल हो गए। पुलिस ने भाजपा पार्षद की तहरीर पर कांग्रेस के पूर्व पार्षद समेत पांच लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया।

यह है मामला 

कसेरूखेड़ा वार्ड 20 के भाजपा पार्षद विजय सोनकर ने बताया कि खटकाना पुल के पास अंडर ग्राउंड नाले की सफाई को लेकर टेंडर कराया गया था। जिसकी सफाई के लिए उन्होंने सोमवार को अलीगढ़ से बड़ी सीवरजेट मशीन मंगाई। आरोप है कि मशीन के पहुंचते ही कांग्रेस के पूर्व पार्षद सुशील सैनी, कांग्रेस नेता विनोद सोनकर के साथ कांता प्रसाद, आशीष, अंकित आदि ने विरोध करना शुरू कर दिया। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। इस दौरान चाकू, छुरे व धारदार हथियार लहराए गए। भाजपा पार्षद विजय पक्ष से पूर्व पार्षद जयचंद सोनकर व छोटा भाई घायल हो गया। सुशील सैनी ने भी हमले का आरोप लगाते हुए कई लोगों के घायल होने का दावा किया। इंस्पेक्टर ऋषिपाल ङ्क्षसह ने बताया कि विजय सोनकर की तहरीर पर सुशील सैनी, विनोद सोनकर, कांता प्रसाद, आशीष, अंकित पर मुकदमा दर्ज किया है। सुशील सैनी को गिरफ्तार कर लिया।

हथियार लहराने की वीडियो व फोटो वायरल

खटकाना पुल पर धारदार हथियार लहराते हुए वीडियो व फोटो सोमवार को वायरल हुए हैं। बताया जा रहा है कि वीडियो में धारदार हथियार लहराने वाला मौजूदा भाजपा पार्षद विजय का छोटा भाई बाबू है। कांग्रेस के पूर्व पार्षद सुशील सैनी का आरोप है कि पुलिस ने सत्ता के दबाव में एक तरफा कार्रवाई की है जबकि मारपीट कर उनके भी कपड़े फाड़ गए हैं।

Edited By: Taruna Tayal