मेरठ, जागरण संवाददाता। Explosion In Meerut समर गार्डन कालोनी में सोमवार को हुए विस्फोट के बाद पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने मंगलवार को क्षेत्र में सर्च अभियान चलाया। इस दौरान पुलिस ने मुस्तकीम के भाई युनूस के धर्मकांटा से भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री बरामद की, जिससे अवैध रूप से पटाखे बनाकर आसपास के जनपदों में सप्लाई किया जा रहा था। पुलिस ने मुस्तकीम, युनूस, याकूब व इनके एक अन्य भाई के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। याकूब व इंतजार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

विस्फोट से तीन मकान ढहे 

लिसाड़ी गेट थानाक्षेत्र की समर गार्डन कालोनी में सोमवार को इंतजार उर्फ इंतु के मकान में हुए विस्फोट से तीन मकान ढह गए। हादसे में इंतजार की बेटी शमीमा की मौत हो गई, जबकि दो बच्चे समेत आठ लोग घायल हो गए थे। घायलों में सुहैल और सुनील की हालत अभी गंभीर है। पुलिस की जांच में सामने आया कि इंतजार के मकान में बरसिया बड़ौत निवासी मुस्तकीम का बारूद रखा हुआ था। मुस्तकीम, युनूस, याकूब व इनका एक अन्य भाई पटाखे बनाने का काम कर रखे थे। 

भारी मात्रा में विस्फोटक सामाग्री और पटाखे बनाने के रैपर मिले 

पुलिस ने मंगलवार को सर्च अभियान चलाकर मुस्तकीम के भाइयों की जांच पड़ताल की तो समर गार्डन में मुस्तकीम के भाई युनूस के मुस्कान धर्मकांटे के अंदर से पुलिस को भारी मात्रा में विस्फोटक सामाग्री और पटाखे बनाने के रैपर मिले। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने विस्फोटक को उठाकर जानी नहर में फेंक कर नष्ट करा दिया। पुलिस ने बरामद विस्फोटक की कीमत ढाई लाख बताई है।  

एडीएम सिटी करेंगे जांच

डीएम दीपक मीणा ने बताया कि विस्फोट की एडीएम सिटी दिवाकर सिंह जांच करेंगे। वर्ष 2017 से मेरठ में पटाखा निर्माण पर प्रतिबंधित है, इसी कारण यहां कोई नया लाइसेंस भी नहीं बना है। समर गार्डन में कैसे पटाखे बन रहे थे और कहां से सामग्री आ रही थी, इन सभी बिन्दुओं पर जांच होगी। 

इनका कहना है... 

 विस्फोट की जांच चल रही है। मकान स्वामी इंतजार समेत को दो गिरफ्तार किया गया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। पटाखों का काम करने वाले मुस्तकीम की तलाश में बडौत में दबिश दी गई। मुस्तकीम के भाई युनूस के धर्मकांटा से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद करने के बाद नष्ट करा दिया गया। चारों भाइयों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। 

-रोहित सजवाण, एसएसपी। 

Edited By: Parveen Vashishta