मेरठ, जागरण संवाददाता। राज्य स्मार्ट सिटी के अंतर्गत हापुड़ अड्डा चौराहे से तेजगढ़ी चौराहे तक गढ़ रोड को स्मार्ट बनाया जाएगा। लगभग तीन किमी स्मार्ट रोड बनाने के लिए 33 केवी व 11 केवी बिजली लाइनों को अंडरग्राउंड किया जाएगा। इसमें बिजली लाइन के पोल शिफ्ट कर दिए जाएंगे। केवल स्ट्रीट लाइट के पोल डिवाइडर पर नजर आएंगे।

टीम ने किया सर्वे

गुरुवार को शासन से आई कंस्ल्टेंट एजेंसी की टीम के साथ नगर निगम, पीडब्ल्यूडी, ऊर्जा निगम के अधिकारियों ने हापुड़ अड्डा चौराहे से तेजगढ़ी चौराहे तक गढ़ रोड का सर्वे किया। इस दौरान बिजली की 33 केवी व 11 केवी लाइनों की शिफिटिंग, अंडरग्राउंड लाइन डालने की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया गया। बिजली की अंडरग्राउंड लाइन डालने के लिए रोड के दोनों किनारों पर यूटीलिटी चैनल बनाने की बात कही गई। इन चैनलों में बिजली लाइन के केबल डाले जाएंगे। साथ ही दूर संचार की केबल भी डाली जाएगी। इस काम में लगभग चार करोड़ रुपये खर्च आने का अनुमान बताया गया है।

पचास करोड़ का है प्रोजेक्‍ट 

स्मार्ट रोड बनाने की कार्यदायी संस्था पीडब्ल्यूडी है। पीडब्ल्यूडी के द्वारा जो निर्माण एजेंसी तय की जाएगी। उसके साथ ऊर्जा निगम की टीम मिलकर अंडरग्राउंड बिजली लाइन डालेगी। इसके साथ ही पेयजल लाइनों को भी शिफ्ट किया जाएगा। गढ़ रोड पर जहां पर भी अतिक्रमण है उसे नगर निगम हटवाएगा। स्मार्ट रोड का प्रोजेक्ट लगभग 50 करोड़ का है। सर्वे का कार्य पूरा हो गया है। संबंधित विभागों के साथ समंवय बनाकर तीन दिन के भीतर डीपीआर को फाइनल टच देकर शासन को भेजा जाएगा। सर्वे के दौरान नगर निगम के निर्माण अनुभाग के इंजीनियर, पीडब्ल्यूडी के अधिकारी और ऊर्जा निगम के अधिशासी अभियंता व अवर अभियंता मौजूद रहे।

Edited By: Parveen Vashishta