मेरठ,जेरएनएन। सरधना नगर के बिनौली रोड पर गुरुवार को लाकडाउन के दौरान ईद से एक दिन पहले दुकानों पर ग्राहकों की भारी भिड़ उमड़ गई। जहां दुकानदारों से लेकर उपभोक्ताओं ने शारीरिक दूरी, सैनिटाइजर का पालन नहीं किया। आवश्यक समान के इतर ज्वैलरी, कपड़े, जूते-चप्पल आदि की दुकानें भी खुलीं।

नगर के बिनौली रोड से लेकर बुद्ध बाजार, अशोक की लाट, गंज बाजार और कालंद चुंगी आदि स्थाना पर लाकडाउन के दौरान शासन की गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ीं। खुली दुकानों पर भीड़ उमड़ी और कोरोना संक्रमण रोकने के नियम दरकिनार दिखाई दिए। पुलिस भी पहुंची और अशोक की लाट पर दुकानदारों को चेतावनी देकर रस्मअदायगी की गई। इसके बावजूद एक भी दुकान बंद नहीं हुई। यही नहीं दुकानदारों ने बिना मास्क के आए ग्राहकों को सामान भी दिया।

उधर, एसओ समर बहादुर सिंह का कहना है कि नगर में कुछ दुकानों पर भीड़ उमड़ने की सूचना मिली थी। मयफोर्स के मौके पर पहुंचकर दुकानों को बंद कराया दिया। एसडीएम अमित कुमार भारतीय ने कहा कि लाकडाउन उल्ल्लंघन करने वाले दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बच्चों ने ईद पर्व का महत्व समझाया: स्प्रिंग डेल्स पब्लिक स्कूल में कोरोना काल में अन्य त्योहारों की तरह गुरुवार को ईद पर्व आनलाइन मनाया गया। बच्चों ने कविता व अन्य मनमोहक प्रस्तुति दी।

कक्षा पांच की छात्रा स्वालेहन ने ईद के त्योहार का महत्व वीडियो के माध्यम से बच्चों को अवगत कराया। सफी राव व निदा ने नज्म सुनायीं और खताब व वलीद ने कविता प्रस्तुत की। स्कूल प्रबंधक मनोज रस्तोगी ने बच्चों को पर्व पर बधाई देते हुए कहा कि त्योहार भाईचारा व एकता के प्रतीक होते हैं। उन्होंने कोरोना महामारी को देखते हुए शारीरिक दूरी का पालन करने और मास्क लगाने की बात कही। यह आयोजन शिक्षिका शिखा व निगार के संयुक्त संचालन में हुआ।